class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऑस्ट्रेलिया टेस्ट और द.अफ्रीका वनडे का सिरमौर

ऑस्ट्रेलिया ने टेस्ट क्रिकेट में अपना दबदबा कायम रखते हुए लगातार चौथी बार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की टेस्ट रैंकिंग में अपना प्रथम स्थान बरकरार रखा, मगर दक्षिण अफ्रीका उसे अपदस्थ करके वनडे का सिरमौर बन गया। कानपुर टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जोरदार जीत की बदौलत सीरीज 1-1 से बराबरी पर छुड़ाने वाली भारतीय टीम टेस्ट रैंकिंग में दूसरे, जबकि वनडे रैंकिंग में चौथे स्थान पर रही। आईसीसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईआे) मैलकम स्पीड ने बुधवार को हुए समारोह में टीमों को बधाई देते हुए कहा कि ऑस्ट्रेलियाई टीम लगातार अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रशंसा की पात्र है। रिकी पोंटिंग की अगुवाई वाली टीम ने टेस्ट स्तर पर अन्य टीमों के लिए आदर्श स्थापित किया है और आईसीसी रैंकिंग में उसकी बादशाहत से यह जाहिर भी होता है। स्पीड ने कहा कि अब कई वरिष्ठ खिलाड़ियों के सन्यास ले लेने से ऑस्ट्रेलिया को अपना दबदबा बरकरार रखने के लिए कड़ी चुनौती का सामना करना पड़ेगा। अन्य टीम इस मौके को किस तरह लेती हैं यह देखने वाली बात होगी। ऑस्ट्रेलिया ने 31 मार्च को समाप्त हुए सत्र में दूसरे स्थान पर काबिज भारत से 30 रेटिंग अंकों की बढ़त लेते हुए चार मैचों में जीत एक हार तथा ड्रा के साथ रैंकिंग में शीर्ष स्थान बरकरार रखा मगर वनडे रैंकिंग में दक्षिण अफ्रीका ने उसे मामूली अंतर से पछाड़कर नंबर एक टीम की गद्दी पर कब्जा जमा लिया। दक्षिण अफ्रीका ने अपने 12 महीने के सत्र में 21 वनडे मैच जीते, जबकि 12 में उसे शिकस्त का सामना करना पड़ा। ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका को उनकी उपलब्धि के लिए एक लाख 75 हजार डॉलर दिए गए, जबकि रिकी पोंटिंग की टीम को 17 मैचों में जीत, छह में हार के साथ-साथ तीन बेनतीजा मैच खेलकर वनडे चैंपियनशिप में दूसरे स्थान पर रहने के एवज में 75 हजार डॉलर की अतिरिक्त राशि प्रदान की गई। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग ने इस मौके पर कहा कि मैं अपनी टीम के प्रदर्शन से बहुत गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं। हमने तमाम चुनौतियों का सफलतापूर्वक सामना किया। पोंटिंग ने कहा कि हम टेस्ट रैंकिंग में अपने निकटतम प्रतिद्वंदी से मीलों आगे हैं, जो यह दर्शाता है कि हमने चुनौतियों का कितनी अच्छी तरह सामना किया। उन्होंने कहा कि हमें वनडे चैंपियनशिप का ताज खोने का गम है मगर यह हमें अपने पुराने रुतबे को फिर से हासिल करने की प्रेरणा भी देगा। वनडे रैंकिंग में विश्व चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को शिकस्त देने पर खुशी जताते हुए दक्षिण अफ्रीका के पूर्व ऑल राउण्डर शॉन पोलक ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया ने विश्व की अन्य टीमों के लिए मानक तय किए हैं। टेस्ट के साथ-साथ एकदिवसीय मैचों में भी उसकी बादशाहत से सारी दुनिया वाकिफ है। ऐसे में उसे पछाड़कर वनडे चैंपियनशिप जीतना दक्षिण अफ्रीका के लिए बहुत बड़ी उपलब्धि है।ड्ढr पोलक ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका के लिए अब अपने खेल का स्तर ऊंचा रखकर नंबर एक के ताज को बरकरार रखना सबसे बड़ी चुनौती होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ऑस्ट्रेलिया टेस्ट और द.अफ्रीका वनडे का सिरमौर