class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कम्प्यूटरीकरण से घर बैठे ही भुगतान की सुविधा

बेलट्रॉन के इंकार के बाद परिवहन विभाग ने नयी एजेंसी के माध्यम से जिला परिवहन कार्यालयों के कम्प्यूटरीकरण की प्रक्रिया शुरू कर दी है। जून से सभी जिला परिवहन कार्यालयों को एकसाथ ऑनलाइन करने का लक्ष्य है। इससे वाहन मालिकों को बार-बार कार्यालयों का चक्कर लगाये बगैर घर बैठे ही कर भुगतान की सुविधा हासिल हो जायेगी।ड्ढr परिवहन मंत्री रामानन्द सिंह ने इस आशय के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।ड्ढr ड्ढr गौरतलब है कि इस योजना के तहत मुख्यालय में 15, पटना जिला परिवहन कार्यालय में 10 जबकि गया, भागलपुर, मुजफ्फरपुर और पूर्णिया के परिवहन कार्यालय में 8-8 कम्प्यूटर लगेंगे। अन्य जिलों के परिवहन कार्यालयां में 3-3 कम्प्यूटर लगाये जाने हैं। डीटीओ में कम्प्यूटर कार्य में दक्ष कर्मचारियों की कमी को देखते हुए संबंधित कंपनी द्वारा वहां एक-एक ऑपरेटर भी तैनात किया जायेगा। श्री सिंह ने कहा कि कम्प्यूटरीकरण की जिम्मेदारी बेलट्रॉन को सौंपी गयी थी लेकिन उसने इंकार कर दिया। इसी वजह से नयी एजेंसी की तालश थी। जून तक यह काम पूरा होने की उम्मीद है। इसके बाद वाहन मालिकों को कर अदायगी या आवेदन जमा करने के लिए बार-बार डीटीओ का चक्कर लगाने से छुटकारा मिल जायेगा। स्मार्ट कार्ड योजना के तहत वाहन मालिकों को और भी कई सुविधाएं मिलेंगी।ड्ढr ड्ढr इस योजना पर भी तेजी से काम हो रहा है।सभी डीटीओ के ऑन लाइन हो जाने पर विभाग जब चाहे जिलों में वाहनों की संख्या और टैक्स अदायगी की अद्यतन स्थिति का पता लगा सकेगा। इससे भ्रष्टाचार पर भी काफी हद तक अंकुश लग सकेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कम्प्यूटरीकरण से घर बैठे ही भुगतान की सुविधा