अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महावीर जयंती पर निकली शोभायात्रा

भगवान महावीर की जयंती के अवसर पर जैन संघ ने शुक्रवार को राजधानी में शोभायात्रा निकाली। इसमें हाथी, घोड़े और बैंडबाजे भी साथ थे। शोभायात्रा में हजारों की संख्या में भगवान महावीर के श्रद्धालु शामिल थे जिनमें महिलाओं की भागीदारी भी काफी थी। इस भव्य शोभ यात्रा को देखने के लिए सड़कों के किनार भीड़ लगी थी। सभी दर्शकों ने शोभायात्रा की काफी सराहना की। पुरुष सफेद एवं महिलाएं केशरिया परिधान में अनुशासित होकर यात्रा में चल रही थीं।ड्ढr ड्ढr यात्रा मीठापुर जैन मंदिर से शुरू होकर आर. ब्लॉक, वीरचंद पटेल पथ, डाक बंगला रोड, न्यू डाक बंगला रोड, एक्जीविशन रोड, गांधी मैदान, बाकरगंज, ठाकुरवाड़ी रोड, नाला रोड होते हुए कदमकुआं स्थित जैन भवन पहुंची। इसमें भगवान महावीर के सभी भक्त भजन-कीर्तन गाते हुए झूम रहे थे। महिलाएं तो कीर्तन गाकर-गाकर सभी भक्तों को झुमा रही थीं।ड्ढr ड्ढr भजन मंडली में अशोक जैन कासलीवाल, शशांक वैद्य, अजीत जैन, अंकित जैन शामिल थे। जैन समाज के कलाकारों ने भक्ित संगीत की धारा बहा दी। अहिंसा परमो धर्म, प्राणी मात्र से प्रम करो,जीओ और जीनो दो के नार भी भक्त लोग लगा रहे थे। कांग्रस मैदान में जैन संघ की निर्देशिका पुस्तक का भी विमोचन अजित जैन ने किया। जैनियों ने राजधानी के नेत्रहीन विद्यालयों में जाकर नेत्रहीन छात्रों को भोजन भी कराया। बाद में सभा को संबोधित करते हुए जैन संघ के अध्यक्ष शांतिलाल जैन ने जैनियों की एकता पर बल दिया। जैन संघ के सचिव प्रदीप जैन ने कहा कि महावीर जयंती के अवसर पर राज्य सरकार के कार्यालयों में सरकारी छुट्टी नहीं रही जबकि संघ ने इस संबंध में कई बार राज्य सरकार को ज्ञापन दिया है। उन्होंने कहा कि पटना में मांस व मछली की बिक्री नहीं हुई लेकिन अन्य शहरों में सरकार के आदेश का कोई प्रभाव नहीं पड़ा। समारोह में संजय जैन, प्रमोद जैन, दिलीप जैन ने भी अपने विचार व्यक्त किए। इधर मानवाधिकार संगठन श्री फाउंडेशन के तत्वावधान में जैन धर्म के 24 वें र्तीथकर भगवान महावीर की जयंती मनाई गई। इस अवसर पर संस्था के महासचिव एम. मनी ने कहा कि महावीर ने अपने जीवन में अहिंसा का पाठ पढ़ाया। वे हिंसा एवं जातिवाद के प्रबल विरोधी थे। भगवान महावीर का उपदेश आज भी अनुकरणीय है।ड्ढr ड्ढr महावीर जयंती पर जमकर बिका मांस-मछलीड्ढr पटना (का.सं.)। जिला प्रशासन के आदेशों की धज्जियां उड़ाते हुए शुक्रवार को महावीर जयंती के मौके पर जमकर बिकी मांस-मछली। राजधानी के दरियापुर, कदमकुआं, बोरिंग रोड, राजा बाजार सब्जी बाग, स्टेशन रोड़, खजांची रोड, मखनिया कुआं के इलाके में मांस-मछली की दुकानों पर भारी भीड़ थी। साथ ही दुकानों में मांस-मछली परोसे जा रहे थे। हालांकि सुबह के समय मांस-मछली की दुकानें बंद थीं। लेकिन चार बजे के बाद इन दुकानों पर लोगों की भारी भीड़ थी। उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार ने जनों के 24 वें र्तीथकर महावीर जयंती के मौके पर 18 अप्रैल को निरामिष दिवस घोषित करते हुए सभी वधशालाओं को बंद करने का आदेश दिया था। इसी आदेश के आलोक मेंोिलाधिकारी ने नगर आयुक्त, पटना नगर निगम व सभी अनुमंडाधिकारियों को अपने इलाकों में इसे सख्ती से लागू कराने का निर्देश दिया गया था। लेकिन इस आदेश की शुक्रवार को धज्जियां उड़ीं।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: महावीर जयंती पर निकली शोभायात्रा