अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आखिरकार मिल ही गया विदेशी टेबल टेनिस कोच

पिछली करीब एक साल के इंतजार के बाद आखिरकार टेबल टेनिस के लिए विदेशी कोच का फैसला हो ही गया। नाम है एलेक्सी एफरमोव जो बेलारूस के हैं। टेबल टेनिस फेडरेशन ऑफ इंडिया- टीटीएफआई ने इनके नाम की सिफारिश की थी जिसे साई ने मंजूरी दे कर खेल मंत्रालय को भेजा। मंत्रालय ने एक बार कुछ आपत्तियों के साथ वापस करने के बाद दूसरी बाद इसे मंजूरी दे दी। मंगलवार को ये जानकारी देते हुए टीटीएफआई के सचिव मूल चंद चौहान ने कहा, ‘एलेक्सी को 2,500 अमेरिकी डॉलर प्रति माह दिए जाएंगे। उन्हें उनकी नियुक्ित की जानकारी दे दी गई है और इसी माह के अंत में सिलिगुड़ी में होने वाले सीनियर नेशनल्स से पहले उनके आ जाने की आशा है। एलेक्सी को एक साल के लिए अनुबंधित किया गया है और उनके प्रदर्शन के आधार पर अनुबंध को आगे और बढ़ाया जा सकता है।’ राष्ट्रीय कोच के लिए चौहान ने कहा, ‘हमने कमलेश मेहता और मंजीत दुआ के नाम की सिफारिश की है। वैसे हम कमलेश को चाहते हैं लेकिन वे 50-60 हजार रुपए प्रति माह की मांग कर रहे हैं। उनका ये कहना है कि जब आप विदेशी कोच को एक-डेढ़ लाख देने को तैयार हैं तो हमें इतना तो दिया ही जा सकता है, तभी वे मुंबई छोड़ कर आएंगे। अब उनकी इस मांग पर सरकार विचार कर रही है। उम्मीद है कि जल्दी ही, नहीं तो 31 मार्च तक तो इस बारे में फैसला हो ही जाएगा।’ इसके साथ ही चौहान ने साथ ही कहा, ‘कोलकाता में साई सेंटर में फिलहाल मौजूद चीनी कोच येन वेई का अनुबंध इस साल 31 दिसंबर तक बढ़ा दिया गया है। वे अब इस साल पुणे में होने वाले युवा राष्ट्रमंडल खेलों में टीम को अपनी कोचिंग में तैयार करेंगे। इसके अलावा फेडरेशन ने डॉ. राजन कुकरेजा को साइकोलॉजिस्ट नियुक्त किया है, जो फरवरी में विश्व चैंपियनशिप में टीम के साथ रहेंगे और खिलाड़ियों को मानसिक रूप से मजबूत करने में मदद करेंगे।’ड्ढr वे अब इस साल पुणे में होने वाले युवा राष्ट्रमंडल खेलों में टीम को अपनी कोचिंग में तैयार करेंगे। इसके अलावा फेडरेशन ने डॉ. राजन कुकरेजा को साइकोलॉजिस्ट नियुक्त किया है, जो फरवरी में विश्व चैंपियनशिप में टीम के साथ रहेंगे और खिलाड़ियों को मानसिक रूप से मजबूत करने में मदद करेंगे। वे अब इस साल पुणे में होने वाले युवा राष्ट्रमंडल खेलों में टीम को अपनी कोचिंग में तैयार करेंगे। इसके अलावा फेडरेशन ने डॉ. राजन कुकरेजा को साइकोलॉजिस्ट नियुक्त किया है, जो फरवरी में विश्व चैंपियनशिप में टीम के साथ रहेंगे।ही चौहान ने साथ ही कहा, ‘कोलकाता में साई सेंटर में फिलहाल मौजूद चीनी कोच येन वेई का अनुबंध इस साल 31 दिसंबर तक बढ़ा दिया गया है। वे अब इस साल पुणे में होने वाले युवा राष्ट्रमंडल खेलों में टीम को अपनी कोचिंग में तैयार करेंगे। इसके अलावा फेडरेशन ने डॉ. राजन कुकरेजा को साइकोलॉजिस्ट नियुक्त किया है, जो फरवरी में विश्व चैंपियनशिप में टीम के साथ रहेंगे और खिलाड़ियों को मानसिक रूप से मजबूत करने में मदद करेंगे।’चौहान ने साथ ही कहा, ‘कोलकाता में साई सेंटर में फिलहाल मौजूद चीनी कोच येन वेई का अनुबंध इस साल 31 दिसंबर तक बढ़ा दिया गया है। वे अब इस साल पुणे में होने वाले युवा राष्ट्रमंडल खेलों में टीम को अपनी कोचिंग में तैयार करेंगे। वे अब इस साल पुणे में होने वाले युवा राष्ट्रमंडल खेलों में टीम को अपनी कोचिंग में तैयार करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आखिरकार मिल ही गया विदेशी टेबल टेनिस कोच