DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उम्मीद: रेलवे की दशा सुधारने को 35 हजार करोड़ कर्ज संभव

संसद में गुरुवार को पेश होने वाले रेल बजट के पिटारे से यात्रियों को सुविधाओं, संरक्षा और सुरक्षा की सौगात मिल सकती है। रेलवे वित्तीय संकट से गुजर रही है, लेकिन सरकारी उपक्रम से 30-35 हजार करोड़ कर्ज मिलने की उम्मीद से रेल मंत्री सुरेश प्रभु की मेल आधुनिकीकरण की पटरी पर दौड़ सकती है।

प्रभु रेल बजट में इसकी घोषणा कर सकते हैं। रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पिछले महीने सुरेश प्रभु ने वित्त मंत्री अरुण जेटली से रेल संरक्षा सुधार के लिए 20 हजार करोड़ की अतिरिक्त सहायता मांगी थी।

इस बार वित्त मंत्रालय से बजटीय सहायता अधिक मिलने की उम्मीद नहीं है, लेकिन एक सरकारी उपक्रम से रेलवे को 30-35 हजार करोड़ का कर्ज मिलने की संभावना है। इसके अलावा विश्व बैंक, एडीबी आदि से कर्ज लेने के लिए सुरेश प्रभु लेखांकन सुधार कर रहे हैं। इसके बाद रेलवे को कम ब्याज पर लंबी अवधि के लिए कर्ज मिल जाएगा।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उम्मीद: रेलवे की दशा सुधारने को 35 हजार करोड़ कर्ज संभव