अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ललित ग्राम रलवे स्टेशन के पास मानव रहित रलवे ढाला पर रविवार की सुबह 266 डाउन सहरसा-फारबिसगंज सवारी गाड़ी एवं ट्रक के बीच टक्कर हो जाने से तीन मजदूर बुरी तरह घायल हो गए। ट्रक पर 15 मजदूर सवार थे। जिन्होंने किसी तरह कूदकर अपनी जान बचाई। घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय ग्रामीण घटनास्थल पर जुट गये और विरोध-प्रदशर्न किया। घटना के बाद ट्रक चालक व खलासी फरार हो गया।ड्ढr ड्ढr घटना में घायल तीन मजदूर लक्ष्मिनियां निवासी अजरुन सिंह, धीरन्द्र राय एवं प्रभु यादव में से अजरुन सिंह की हालत काफी गंभीर है। जिन्हें प्रारंभिक उपचार के बाद उचित चिकित्सा के लिए पूर्णिया ले जाया गया है। ट्रेन एवं ट्रक की सीधी टक्कर में जहां ट्रेन के इांन को क्षति पहुंची है। वहीं ट्रक का अगला भाग बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया है। घटना की जानकारी मिलते ही आरपीएफ के जमादार आर.के.सिंह एवं आरक्षी पवन कुमार तथा ललित ग्राम ओपी प्रभारी जी.पी.सिंह मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। घटना के बाद एक घंटा तक रलवे परिचालन बाधित रहा। ट्रक पर सवार मजदूर चन्द्रेश्वर यादव ने बताया कि ट्रेन को आते देख ट्रक को रोकने एंव क्रासिंग पार करने के लिए ड्राइवर को काफी चेतावनी दी। लेकिन ड्राइवर ने उनकी बात अनसुनी कर दी। ट्रक पर सभी सवार मजदूर थे। जिन्हें गेमन इंडिया की ट्रक संख्या यू.पी.80 ए.सी. 055 से नरपतगंज से पूरब 227 न. पुल पर चल रहे निर्माण कार्यस्थल पर ले जाया जा रहा था। ट्रेन एवं ट्रक के भिड़ंत की खबर सुनकर लोगों में अफरातफरी का माहौल बन गया। खबर लगते ही आसपास के लोगों ने घटनास्थल पहुंचकर गेमन इंडिया के अन्य गाड़ियों को रोका तथा विरोध प्रदर्शन भी किया। लोगों का कहना था कि ट्रेन के चालक की चतुराई के कारण ही एक बड़ा हादसा टल गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: