अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एनसीपी नेताओं से मिले गोपीनाथ मुंडे

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के महासचिव गोपीनाथ मुंडे ने सोमवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेताओं से मुलाकात की है। मुंडे ने रविवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया था और उसके बाद दिल्ली बुलाए जाने पर आने से भी इनकार कर दिया था। इससे पहले मुंडे के इस्तीफे से उत्पन्न स्थिति को गंभीरता से लेते हुए प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी और मुंडे को पार्टी हाईकमान ने दिल्ली तलब किया गया था। लेकिन मुंडे ने दिल्ली आने से इनकार कर दिया था। लोकसभा में विपक्ष के नेता लालकृष्ण आडवाणी के संसद भवन स्थित कक्ष में पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में रविवार सुबह हुई बैठक में मुंडे के इस्तीफे से उत्पन्न स्थिति पर गंभीरता से विचार विमर्श के बाद उन्हें और गडकरी को दिल्ली तलब किया गया था। इस बैठक में राजनाथ सिंह और आडवाणी के अतिरिक्त पार्टी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष बालासाहेब आपटे, पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष एम वेंकैया नायडु, रायसभा में विपक्ष के नेता जसवंत सिंह और सुषमा स्वराज शामिल थीं। मुंबई क्षेत्रीय भाजपा के अध्यक्ष मधु चव्हाण को अध्यक्ष बनाए जाने के बाद मुंडे ने पार्टी महासचिव समेत पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा देते हुए कहा था कि पार्टी में निर्णय लोकतांत्रिक तरीके से नही किए जाते। जबकि यह भी सच्चाई है कि मुंबई क्षेत्रीय भाजपा के अध्यक्ष पद के चयन के बारे में आपटे, पूर्व केंद्रीय मंत्री राम नाईक,वेदप्रकाश गोयल की तीन सदस्यीय समिति ने मुंबई के 0 से अधिक प्रमुख नेताआें से विचार विमर्श के बाद चव्हाण को अध्यक्ष घोषित किया। महाराष्ट्र प्रदेश भाजपा के सूत्रों के अनुसार मुंडे की पिछले कुछ समय से शिकायत थी कि पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व उन्हे दिवंगत प्रमोद महाजन की तरह अहमियत नही देता। ज्ञातव्य है कि मुंडे इस समय पार्टी महासचिव होने के साथ साथ पार्टी में केन्द्रीय चुनाव समिति के प्रमुख सदस्य तथा राजस्थान के प्रभारी हैं। सूत्रों के अनुसार पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार पार्टी के केन्द्रीय कोर ग्रुप की सोमवार शाम बैठक हो रही है, संभवत: उसमें मुंडे के इस्तीफे के मुद्दे पर विचार होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एनसीपी नेताओं से मिले गोपीनाथ मुंडे