अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छात्रों को काबू में रखने को होगी विशेष व्यवस्था

छात्रों को काबू में रखने के लिए विशेष व्यवस्था की जाएगी। किसी प्रकार की अप्रिय घटना विवि मुख्यालय में न हो इसके लिए प्रयास किए जाएंगे। छात्रों द्वारा 17 अप्रैल को पटना विवि बंद कराने को लेकर विवि प्रशासन ने सख्त रवैया अपनाया है। कुलपति का कहना था कि आखिर उस दिन छात्रों के बंद का समर्थन कर्मचारियों ने कैसे किया और विभागीय प्रधानों द्वारा इस मुद्दे पर क्या कार्रवाई की गयी। डा. श्याम लाल ने सभी विभागीय प्रमुखों की बैठक में सभी विभागीय प्रधानों को इस घटना के संबंध में कारण बताने को कहा है।ड्ढr ड्ढr साथ ही सोमवार को हुई बैठक में पाया गया कि आम छात्रों द्वारा भी किसी भी समय विवि मुख्यालय में प्रवेश करने से ही स्थिति बिगड़ती है। इसको देखते हुए विवि प्रशासन ने एक बार फिर पूर्व कुलपति डा. वाईसी सिम्हाद्रि के आदेश को लागू करने का निर्णय लिया है। इसके तहत आम छात्र तीन से चार बजे तक और परीक्षा से संबंधित छात्र एक बजे से तीन बजे तक विवि मुख्यालय में प्रवेश करंगे। साथ ही अब शिक्षक व कर्मचारियों की उपस्थिति पर भी नजर रखी जाएगी। कुलपति ने निर्देश दिया है कि विभिन्न विभागों के अध्यक्ष व प्रशाखा के प्रधान अपने कर्मचारियों की उपस्थिति व लेट-लतीफी पर नजर रखेंगे। समय पर कार्यालय न आने वाले कर्मचारियों व विभाग से गायब रहनेवाले शिक्षकों की पूरी रिपोर्ट कुलपति को विभागों के अध्यक्ष सौंपेंगे। जिन शिक्षक व कर्मचारियों द्वारा विवि के नियमों का उल्लंघन किया जाएगा उनको दंडित भी किया जाएगा। कुलपति ने शिक्षकों को छात्र हित को ध्यान में रखते हुए समय पर विभाग में आने व क्लास नियमित लेने का निर्देश दिया है। बैठक में प्रॉक्टर डा. भगवान प्रसाद सिंह, डीन डा. एजाज अली अरशद समेत विभागों के अध्यक्ष व प्रशाखा पदाधिकारीगण शामिल है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: छात्रों को काबू में रखने को होगी विशेष व्यवस्था