DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांशीराम योजना में आठ नए वार्ड

नगर निगम सदन की शर्तो को दरकिनार करते हुए कांशीराम जी समग्र विकास योजना के लिए आठ नए वार्डो का चयन कर लिया गया है। अब इन वार्डो में करोड़ों के विकास कार्य कराए जाएँगे। शासन के निर्देश पर नगर आयुक्त ने मुख्य अभियन्ता को पत्र लिखकर एक हफ्ते के भीतर इन वार्डो में विकास की कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए हैं।ड्ढr कांशीराम जी समग्र विकास योजना में सबसे पहले चार वार्डो का चयन किया गया था। इस पर अन्य पार्षदों ने आपत्ति उठाई थी। सदन में भी हंगामा भी हुआ था। पार्षदों का कहना था कि यदि आठ-आठ वार्ड भी हर साल लिए जाते हैं तो पाँच साल के कार्यकाल में 38 से अधिक वार्ड इसमें शामिल नहीं हो सकते। 38 वार्डो में करोड़ों के काम अलग से हो जाएँगे और बाकी में कुछ नहीं होगा तो उनके पार्षद जनता के सामने क्या मुँह दिखाएँगे। इस पर सदन ने 110 वार्डो को शामिल करने की शर्त के साथ योजना को मंजूरी दी थी। यह भी शर्त लगाई थी कि योजना के कामों के लिए महापौर की अध्यक्षता में एक कमेटी बनेगी। नगर निगम सिर्फ 20 प्रतिशत धन खर्च करगा। बाकी 80 प्रतिशत राशि शासन देगा। सभी शर्तों को दरकिनार कर अधिकारी शासन के निर्देशों पर काम करा रहे हैं। अब फिर शासन के निर्देश पर आठ नए वार्डो का चयन कर लिया गया है। महापौर डॉ. दिनेश शर्मा कहते हैं कि किसी भी वार्ड के साथ भेदभाव नहीं किया जाना चाहिए। अवस्थापना निधि,स्टैम्प डय़ूटी और 12 वें वित्त आयोग की धनराशि पर नगर निगम का अधिकार है। उसको सरकार इस योजना में लगा रही है। सभी वार्डो की जनता व पार्षदों के साथ समान व्यवहार होना चाहिए।ंं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कांशीराम योजना में आठ नए वार्ड