अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहारियों के बिना कोई सूबा नहीं चल सकता : बिट्टा

ांग्रस के वरीय नेता एम.एस. बिट्टा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के फैन हो गये हैं। उन्होंने नीतीश कुमार को देश का दूसरा बेअंत सिंह एवं केपीएस गिल करार दिया है। सलाह दी है कि माओवादियों पर उन्होंने अंकुश लगा दिया तो बिहार देश में नम्बर-१ हो जाएगा। मंगलवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में अखिल भारतीय आतंकवाद विरोधी मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बिट्टा ने बिहारियों के पक्ष में खुलकर बोला। उन्होंने राजनीतिक दलों पर राज ठाकर को जरनैल सिंह भिण्डरावाले बनाने का आरोप लगाया। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से आतंकवाद के मुद्दे पर पूर्व प्रधानमंत्रियों स्व. इंदिरा गांधी, स्व. राजीव गांधी एवं स्व. पीवी नरसिम्हा राव की नीतियों पर चलने का आग्रह किया।उन्होंने कहा कि असम, पंजाब, महाराष्ट्र समेत कई राज्यों से बिहारियों को भगाने के लिए हमले किये जा रहे हैं, पर उन्हें समझना होगा कि बिहारियों के बिना देश का कोई राज्य चल ही नहीं सकता है।ड्ढr ड्ढr बिहार को शहाबुद्दीन जैसे कुछ राजनीतिक आतंकवादियों ने बदनाम किया। बिहारियों पर हमले के बावजूद बिहारी नेताओं एवं अभिनेताओं द्वारा कुछ नहीं बोलने पर उन्होंने अफसोस जाहिर किया। उन्होंने कहा कि राजनीतिक इच्छाशक्ित नहीं होने के कारण नेता चुप रहते हैं। हालांकि श्री बिट्टा ने नेपाल में माओवादियों की सरकार बनने को बिहार और उत्तर प्रदेश के लिए खतरा बताया। उन्होंने आशंका जतायी कि बिहार में नक्सलवाद का खतरा बढ़ेगा। उन्होंने राज्य सरकार को गोली का जवाब गोली से देने की नसीहत दी और कहा कि सूबे के सभी राजनीतिक दलों को इस मुद्दे पर एक होना होगा। उन्होंने कहा कि बाल ठाकरे एवं राज ठाकर की राजनीतिक गतिविधियों पर रोक लगाने के लिए वे सुप्रीम कोर्ट जाएंगे। श्री बिट्टा ने अफजल को इसी वर्ष फांसी और पाकिस्तान सरकार को ’7१ जंग के सिपाहियों को लौटाने की सलाह दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बिहारियों के बिना कोई सूबा नहीं चल सकता : बिट्टा