DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विकास का पैसा बैंको में न रखें?3द्वद्यज्ठ्ठड्डद्वद्गह्यश्चड्डष्द्ग श्चrद्गथ्न्3 = o ठ्ठह्य = ह्वrठ्ठज्ह्यष्द्धद्गद्वड्डह्य-द्वन्ष्roह्यoथ्ह्ल-ष्oद्वज्oथ्थ्न्ष्द्गज्oथ्थ्न्ष्द्ग

डेवलपमेंट के लिए आयी रकम को ट्रेारी से निकालकर बैंको में रखना अधिकारियों के लिए महंगा पड़ सकता है। मना करने के बाद भी मार्च महीने में बड़े पैमाने पर राशि बैंको में जमा करा दी गयी है। वित्तीय अनुशासन नहीं मानने को सीएम ने गंभीरता से लिया है। वित्तीय प्रबंधन पर 24 अप्रैल को विभागीय सचिवों की बैठक बुलायी है। इसमें वित्त मंत्री और सीएस को भी उपस्थित रहने को कहा गया है। पहले वित्त मंत्री ने विभिन्न वित्तीय पहलुओं पर 22 अप्रैल को अधिकारियों की बैठक बुलायी थी। सीएम के रुख को देखते हुए वित्त मंत्री ने मंगलवार को अधिकारियों के साथ बैठक नहीं की। अग्रिम निकालकर उसका वाउचर नहीं देने को सीएम ने गंभीरता से लिया है। सीएम द्वारा बैठक बुलाने के बाद विभागों में योजना खर्च से संबंधित दस्तावेज तैयार किये जा रहे हैं। समीक्षा बैठक में इन सभी बिंदुओं पर समीक्षा की जायेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: विकास का पैसा बैंको में न रखें?3द्वद्यज्ठ्ठड्डद्वद्गह्यश्चड्डष्द्ग श्चrद्गथ्न्3 = o ठ्ठह्य = ह्वrठ्ठज्ह्यष्द्धद्गद्वड्डह्य-द्वन्ष्roह्यoथ्ह्ल-ष्oद्वज्oथ्थ्न्ष्द्गज्oथ्थ्न्ष्द्ग