DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जानवरों ने कम कर दी चहलकदमी

भीषण गर्मी में संजय गांधी जविक उद्यान में जानवरों ने अपनी चहलकदमी कम कर दी है। सभी जानवर पूर दिन पेड़ की छांव में आराम फरमाते नजर आते हैं। बाघों की चहल-कदमी को देखने का आनंद लोग नहीं उठा पा रहे हैं। कभी पानी में तो कभी पेड़ की छांव में आराम करते ही बाघ दिखाई देते हैं। बाघ व शेरनियों ने अपनी खुराक भी कम कर दी है। उद्यान के अधिकारी बताते हैं औसतन दस किलो प्रतिदिन मांस खाने वाले ये जानवर भीषण गर्मी के कारण आठ से नौ किलो मांस खा रहे हैं।ड्ढr ड्ढr गर्मी में गैंडों का तो पूरा दिन कीचड़ में ही बित रहा है। इसी प्रकार, भालू, तेंदुआ, जिराफ, हिरण आदि जानवरों को छांव वाली जमीन ही पसंद आ रही है। गर्म मुल्क का जानवर होने के बावजूद जिराफ भी तपती धूप में अधिकांश समय अपने आराम गृह में बीत रहे हैं। गर्मी में जानवरों को ग्लूको के साथ लू से बचने की दवाएं दी जा रही हैं। जानवरों के नाइट हाउस के दरवाजे दिन में भी खुले रहते हैं, ताकि जानवर चाहें तो उसके अंदर प्रवेश कर सकें। जानवरों के केा के आस-पास की जमीन को दिन में दो बार पानी से पटाया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जानवरों ने कम कर दी चहलकदमी