अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

श्रमजीवी की 10 बोगियां पटरी से उतरीं

राजगीर से नई दिल्ली जा रही श्रमजीवी एक्सप्रस के 14 डिब्बे पटरी से उतर गए। घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। 25 मीटर पटरी उखड़ गयी । यह घटना राजगीर-बख्तियारपुर रलखंड के बिहारशरीफ स्टेशन से लगभग चार किलोमीटर दूर सोहसराय हाल्ट के समीप बुधवार को हुई। रल चालक की मानें तो रलवे ट्रैक में गड़बड़ी के कारण घटना हुई प्रतीत होती है। दानापुर के डीआरएम भगवान दास गर्ग ने बताया कि कम से कम 30 घंटे के बाद ही रलखंड पर परिचालन शुरू हो सकेगा। उन्होंने बताया कि 300 रलकर्मियों को बुलाकर परिचालन शीघ्र चालू कराने का प्रयास किया जा रहा है। घटना बुधवार की सुबह नौ बजकर पांच मिनट में हुई। चालक विजय तिक्का ने बताया कि अगर वे शीघ्र ब्रक नहीं लेते तथा ट्रन निर्धारित तीव्र गति में होती तो बड़ी दुर्घटना हो सकती थी। वहीं प्रत्यक्षदर्शी शिक्षक सतीश कुमार व सतेन्द्र कुमार ने बताया कि ट्रन का एक इंजन के बाद के डिब्बे ज्योंहि पटरी से उतरने लगे कि तेज आवाज के साथ चारों ओर धुआं भर आया। लोगों में अफरातफरी मच गयी। उन्होंने बताया कि दो-चार लोगों को हल्की चोंटे आयी हैं लेकिन सभी लोग खतर से बाहर थे।ड्ढr ड्ढr ड्ढr लगभग 200 मीटर चलने के बाद ही ट्रन रूकी। इसके बाद घटनास्थल पर चहुंओर कोलाहल सुनाई देने लगा। 23 बोगियों वाली ट्रन में दो हजार से अधिक यात्रियों के सवार होने की बातें बतायी गयीं। जिन लोगों ने यात्रा समाप्त करनी चाही अथवा अन्य वाहनों से जाना चाहे उनके टिकट वापस करने की सुविधा बिहारशरीफ स्टेशन पर दी गयी थी।ड्ढr घटना के बाद यात्रियों में डेढ़-दो घंटे तक अफरातफरी का माहौल बना रहा। लोगों की मानें तो घटना के डेढ़ घंटे तक वहां पेयजल व वाहन पकड़ने के लिए लोगों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। हालांकि डीआरएम ने बताया कि घटना के आधे घंटे बाद जिला प्रशासन द्वारा यात्रियों को पटना पहुंचाने तथा पेयजल की व्यवस्था की गयी थी। एक्सीडेंटल रिलीफ ट्रन (एआरटी) से डीआरएम के साथ सीनियर डीसीएम, मंडल अभियंता घटनास्थल पर पहुंचे थे। जिलाधिकारी अनुपम कुमार, एसपी विनीत विनायक, एसडीओ शेखरचन्द्र वर्मा समेत अन्य पदाधिकारी घटनास्थल पर कैंप किये हुए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: श्रमजीवी की 10 बोगियां पटरी से उतरीं