DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फूलों ने भी बिगाड़ा ब्याह का बजट

इस बार फूल ने भी शादी-ब्याह का बजट गड़बड़ा दिया है। हावड़ा फूल मंडी में लगी आग के कारण मुजफ्फरपुर में फूल की कीमतें आसमान छू रही हैं। इस कारण लोगों को गाड़ी व विवाह मंडप सजाने के लिए काफी अधिक कीमत चुकानी पड़ रही है। पैसे वाले लोग तो ऊंची कीमत अदा कर दे रहे हैं, लेकिन गरीबों का झुकाव कृत्रिम फूलों की ओर बढ़ रहा है। गरीब स्थान के मां दुर्गा फूल भंडार के मालिक सोनू व पप्पू ने बताया कि हावड़ा मंडी में आग लगने से अलग-अलग स्थानों से गाड़ी सजाने के लिए फूल मंगवाना पड़ता है।ड्ढr ड्ढr दिल्ली, पुणे, बंगलुरू से फूलों का आयात फ्लाइट से किया जाता है। ऊंची कीमत देने के बाद भी समय पर एक साथ सभी फूल नहीं आ रहे हैं। पिछले वर्ष जहां रजनीगंधा से क्वालिस, बोलेरो 700 व मारूति 500 रुपये में सजाया जाता था, वहीं इस वर्ष बेलेरो 1000 रुपये, मारूति 00 रुपये, क्वालिस 1500 रुपये में सजाया जाता है। गुलाब से गाड़ी सजाने के लिए तीन सौ रुपये अधिक देना पड़ रहा है। थोक बाजार में फूल की कीमत में भी जोर का उछाल आया है। पिछले साल शहर में गुलाब 125 रुपये, गेंदा 300 रुपये, जरवेरा 600 रुपये, आरकेड 100 रुपये सैकड़ा, ग्लैडियस 12 रुपये बंडल उपलब्ध हो जाता था, वहीं इस महीनें गुलाब 250 रुपये, गेंदा 1000 रुपये, ग्लेडियस 700 रुपये, आरकेड 250 रुपये, जरवेरा 1500 रुपये सैकड़ा के हिसाब से मिल रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: फूलों ने भी बिगाड़ा ब्याह का बजट