DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निर्माण एजेंसियों से पंगा न लें जदयू कार्यकर्ता

जदयू ने अपने पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं से निर्माण एजेंसियों से पंगा नहीं लेने को कहा है। कार्यकर्ताओं और पार्टी पदधिकारियों के खिलाफ लगातार दर्ज हो रहे मामले से परशान जदयू ने अपने कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों के लिए नया दिशा-निर्देश जारी किया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा कार्यकर्ताओं से विकास कार्यो की निगरानी के तरीके बताने के बाद पार्टी ने नया दिशा-निर्देश जारी किया है। इसमें उनसे अपील की गई है कि वे विकास व कल्याणकारी कार्यो की मॉनीटरिंग तो करं, लेकिन गड़बड़ी देखकर निर्माण एजेंसियों से झगड़ा न करं। पार्टी ने सख्त हिदायत दी है कि किसी भी सूरत में वे निर्माण एजेंसी के समक्ष अपना विरोध दर्ज न करं और गड़बड़ी की सूचना सीधे मुख्यालय या संबंधित विभाग को दें।ड्ढr ड्ढr अपनी सूचना वे सीधे मुख्यमंत्री को भी पहुंचा सकते हैं। पार्टी मानती है कि अधिसंख्य मामलों में उसके कार्यकर्ता और पदाधिकारी विकास कार्यो की निम्न गुणवत्ता से नाराज होकर संबंधित एजेंसी के पास विरोध दर्ज कराने पहुंचते हैं। यही परशानी का कारण हो जाता है। कई मामलों में निर्माण एजेंसी इसे रंगदारी से जोड़ देते हैं। इससे पार्टी और कार्यकर्ताओं दोनों के लिए समस्या खड़ी हो जाती है। अगर कार्यकर्ता या पदाधिकारी गड़बड़ी की सूचना सीधे सरकार को देंगे तो उसकी समुचित जांच कराई जा सकेगी। पार्टी ने पार्टी के सभी प्रमंडल, जिला संगठन, राज्य कार्यकारिणी सदस्य, राज्य परिषद के सदस्य व जिलाध्यक्षों को भेजे गए निर्देश में उनसे बीपीएल राशन-किरासन कूपन के वितरण और इंदिरा आवास आदि योजनाओं की मॉनीटरिंग की अपील की है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: निर्माण एजेंसियों से पंगा न लें जदयू कार्यकर्ता