अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब एसी,फ्रिचा के दाम बढ़ेंगे

सब्जी, अनाज वगैरा पर तो महँगाई की मार पड़ी ही है, अब घर में काम आने वाली अन्य चीजों पर भी इसका असर देखने को मिल सकता है। वजह हैं स्टील के बढ़ते दाम। इस वजह से पिछले दिनों वाहन कम्पनियों ने अपने उत्पादों की कीमत बढ़ाई थी। अब फ्रिा और एसी की कीमत बढ़ने से गर्मी में पसीना-पसीना होने की बारी है। एलजी, सैमसंग, गोदरा, इलेक्ट्रोलक्स, कैरियर, ह्वर्लपूल। शायद ही कोई ब्रांड एसा हो, जो अपनी कीमत न बढ़ाने जा रहा हो। इनका कहना है कि स्टील के दाम बढ़ने से उनके उत्पादों की लागत बढ़ गई है। एसे में वे इनकी कीमतों में दो से सात फीसदी की बढ़ोतरी करने की सोच रहे हैं। अब प्रधानमंत्री के कहने पर स्टील उद्योग ने दामों को मौजूदा स्तर पर ही बनाए रखने का फैसला किया है लेकिन पहले जो बढ़ोतरी हो चुकी है, उसका असर उपभोक्ता वस्तुओं पर पड़ रहा है।ड्ढr सैमसंग इंडिया के डिप्टी एमडी आर. जुत्शी ने बताया कि कम्पनी मार्च में ही फ्रिा के दाम में दो से तीन फीसदी की बढ़ोतरी कर चुकी है। अब एसी की बारी है। गोदरा अप्लाएंसेज के वीपी (सेल्स एंड मार्केटिंग) कमल नंदी ने बताया कि अगर सरकार महँगाई पर काबू पाने में विफल रहती है तो हमें गर्मियों के बाद उत्पादों की कीमतों पर पुनर्विचार करना होगा। एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स के एमडी (सेल्स एंड मार्केटिंग) वी. रामचंद्रन ने कहा कि हमने अब तक फैसला नहीं किया है कि कब दाम बढ़ाए जाएँ लेकिन जल्द ही कीमतों में बढ़ोतरी होगी। एसी की कीमतों में चार से पाँच फीसदी की बढ़ोतरी हो सकती है, जबकि रफ्रिारटर और वाशिंग मशीनों के दामों में तीन से पाँच फीसदी की बढ़ोतरी हो सकती है।ड्ढr दूसरी तरफ जेएसडब्लयू, एस्सार और इस्पात ने भी जून 2008 तक स्टील की कीमतों में बढ़ोतरी नहीं करने की बात कही है। सरकार ने कहा कि अगर स्टील क्षेत्र में किसी तरह का गठाोड़ है तो वह एमआरटीपीसी को इस मामले की जाँच करने के लिए कहेगी। उपभोक्ता मामलों के मंत्री प्रेम चंद गुप्ता ने कहा कि एमआरटीपीसी ने सीमेंट क्षेत्र की प्रारंभिक जाँच के बाद गठाोड़ की आशंका जताई है। (प्रेट्र)

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अब एसी,फ्रिचा के दाम बढ़ेंगे