DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जामिया में महिलाएं ही चलाएंगी कैंटीन

जामिया मिल्लिया इस्लामिया ने महिलाओं को सशक्त करने और लिंग समानता के उद्देश्य से एक ऐसी कैंटीन तैयार की है जिसे सिर्फ महिलाएं ही चलाएंगी। इस कैंटीन को स्वयं सहायता समूह ‘एकता’ से जुड़ी विश्वविद्यालय के आसपास रहने वाली महिला चलाएंगी।

विश्वविद्यालय के जनसंपर्क अधिकारी मुकेश रंजन ने बताया कि हमारे आउटरीच कार्यक्रम के तहत यह कैंटीन खोली जा रही है। इस कार्यक्रम के अंतर्गत विश्वविद्यालय के आसपास के इलाकों में रहने वाले गरीब लोगों विशेषकर महिलाओं को अवसर प्रदान किए जाते हैं। 100 लोगों की क्षमता वाली इस कैंटीन का इस्तेमाल विद्यार्थी, प्रोफेसर और अन्य लोग भी कर सकेंगे। विश्वविद्यालय पॉलीटेकनिक के पास बनाई गई है।

कैंटीन को चलाने वाली महिलाओं को विश्वविद्यालय के समाज कार्य विभाग द्वारा प्रशिक्षण भी दिया गया है। इसके लिए समय-समय पर वर्कशॉप का भी आयोजन किया जाता रहा है। एकता समूह से करीब 30 महिलाएं जुड़ी हुई हैं। वर्कशॉप में महिलाओं को प्रशिक्षण देने वालीं एक सलाहकार शरोन अहमद ने बताया कि इन महिलाओं में सीखने की गजब ललक है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जामिया में महिलाएं ही चलाएंगी कैंटीन