अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चावल रिकार्ड ऊंचाई पर, वर्ल्ड बैंक चिंतित

वर्ल्ड फूड प्रोग्राम ने पिछले महीने कीमतों के दोगुनी होने तथा सप्लायरों के कांट्रैक्ट पूर न कर पाने के कारण कंबोडिया के 1,344 स्कूूलों में चावल की डिलीवरी रोक दी। डब्ल्यूएफपी के अनुमान के अनुसार, एक मई तक इन स्कूलों में खाने का कोई इंतजाम नहीं रह जाएगा। वर्ल्ड बैंक के अधिकारियों ने कहा कि उन्हें आशंका है कि सबसे बड़ा निर्यातक देश थाईलैंड शिपमेंट रोक दे सकता है जिससे दुनिया भर में फैल चुका खाद्य संकट और भी गहरा सकता है। चीन, वियतनाम, भारत तथा मिस्त्र ने घरलू आपूर्ति की रक्षा करने तथा महंगाई पर अंकुश लगाने के लिए ओवरसीज बिक्री पर रोक लगा दी है। चावल की बेतहाशा बढ़ती कीमतें इस प्रमुख खाद्य पद्दार्थ को दुनिया के सबसे गरीब लोगों की पहुंच से बाहर कर दे सकती है जिससे एशिया में एक खामोश अकाल का जोखिम पैदा हो सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: चावल रिकार्ड ऊंचाई पर, वर्ल्ड बैंक चिंतित