DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इनलैंड कंटेनर डिपो खुलेंगे

निर्यात सुविधाओं के विकास के लिए राज्य में इनलैंड कंटेनर डिपो की स्थापना होगी। केन्द्र और राज्य के संयुक्त उपक्रम पर 23.42 करोड़ रुपये खर्च होंगे। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में 150 कंटेनर एवं पैकेजिंग विकास केन्द्र खोले जायेंगे। राज्य और खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में उत्पादित सामग्रियों को राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के लिए दोनों योजनाओं पर एकसाथ काम हो रहा है। ग्रामीण हाट को शहरी व्यापारिक केन्द्रों के फीडर सेंटर का रूप दिया जायेगा।ड्ढr ड्ढr इनलैंड कंटेनर डिपो स्थापना की डीपीआर तैयार हो जाने के आधार पर राज्य सरकार ने अपने हिस्से के 6 करोड़ रुपये में से फिलहाल 1.48 करोड़ रुपये जारी कर दिये हैं। केन्द्र की हिस्सेदारी 17.42 करोड़ रुपये है। दूसरी ओर कंटेनर एवं पैकेजिंग विकास केन्द्रों पर प्रति केन्द्र 20 लाख रुपये खर्च होंगे जिसके के लिए केन्द्र को अलग से प्रस्ताव भेजा गया है।ड्ढr इस योजना के अंतर्गत सड॥कों का नेटवर्क, गोदाम, कैनिंग एवं चिलिंग व प्रोसेसिंग सेन्टर का विकास किया जायेगा। इससे किसानों, लघु और कुटीर उद्यमियों के परिवहन व्यय में भी कमी आयेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: इनलैंड कंटेनर डिपो खुलेंगे