DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंत्रियों की भी जमकर क्लास ली।

मुख्यमंत्री एवं बसपा प्रमुख मायावती ने शुक्रवार को यहाँ संगठनात्मक समीक्षा के बाद अपने मंत्रियों की भी जमकर क्लास ली। जिन मंत्रियों के ग्यारह महीने के कामकाज से मुख्यमंत्री असंतुष्ट थीं उन्हें कड़ी फटकार लगाई। साफ कर दिया कि अगर जल्द सुधार न हुआ तो गंभीर परिणाम भुगतने होंगे।ड्ढr शुक्रवार की शाम मुख्यमंत्री के सरकारी आवास पर नजारा किसी क्लास रूम से कम न था। टीचर थीं खुद मायावती। उन्होंने एक-एक मंत्री को खड़ा कर उनके ग्यारह महीने के कामकाज का रिपोर्ट कार्ड पढ़ कर सुनाया। उनके मूल्यांकन में जो मंत्री पास नहीं हुए थे या कम नंबर पाए थे उनके हिस्से कड़ी फटकार आई। जबकि अच्छा काम करने वालों को तारीफ मिली।ड्ढr डाँट खाने वालों में सबसे पहला नंबर लगा बरली के उन मंत्री का जो पिछले दिनों ट्रन में बगैर टिकट यात्रा करते हुए पकड़े गए थे। नाराज मुख्यमंत्री ने मंत्री को खड़ा कर कहा कि उनके कारनामे से पूरी बसपा सरकार की छवि खराब हुई है। आगे इस तरह की किसी हरकत को वह बर्दाश्त करने वाली नहीं। सीधे बाहर का रास्ता दिखाएँगी। इसके बाद बारी विभागीय राजस्व वसूली में फिसड्डी रहे मंत्री की थी। मंत्री जी के पास कई अहम विभाग हैं। इनमें करों की वसूली से जुड़ा एक विभाग इस बार लक्ष्य से काफी पीछे रह गया।ड्ढr मुख्यमंत्री ने मंत्री को कड़ी फटकार लगाते हुए इस ओर विशेष ध्यान देने के लिए कहा। कानपुर में पिछले दिनों गर्भवती महिला के साथ अस्पताल कर्मियों के व्यवहार से व्यथित मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य मंत्री से पूर प्रदेश में अस्पतालों की खराब व्यवस्था पर अपनी नाराजगी जाहिर की। साथ ही जल्द ही सुधार लाने की हिदायत भी दी। पश्चिम के एक मंत्री को उन्होंने इसलिए डाँटा कि वह विभागीय सामान खरीदने में ज्यादा दिलचस्पी रखते हैं न कि जनता को सुविधा मुहैया कराने में। पूरब के एक मंत्री को भी निजीकरण में देरी होने के लिए डाँट लगाई। सूत्रों के अनुसार मुख्यमंत्री ने साफ कर दिया कि विभागीय कामकाज में मंत्रियों की ढिलाई वह हर्गिज बर्दाश्त नहीं करंगी। उन्होंने कहा कि मंत्री इसे उनकी अंतिम चेतावनी समझ कर सुधार कर लें वरना विभाग बदलने से लेकर वह बाहर का रास्ता दिखाने में भी नहीं हिचकेंगी। ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मंत्रियों की भी जमकर क्लास ली।