अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पटना जं. के मास्टर प्लान पर हुई चर्चा

पटना रलवे स्टेशन को विश्वस्तरीय बनाने की कसरत शुरू हो गई है। शुक्रवार को विश्वप्रसिद्ध कन्सलटेंट कंपनी ‘एडास’ के निदेशक बारन एगोस्टन व उनके सहयोगियों के साथ पूर्व मध्य रलवे के महाप्रबंधक गिरीश भटनागर व वरीय अधिकारियों की लंबी बैठक चली। बैठक में पटना रलवे स्टेशन को नया स्वरूप प्रदान करने और प्रस्तावित मास्टर प्लान पर विस्तार से चर्चा हुई। इसके अलावा मौजूदा सुविधाओं के नजदीकी स्टेशनों पर स्थानांतरण और कार्य निष्पादन में रल मंत्रालय द्वारा निर्धारित मानकों पर भी विस्तार से विमर्श किया गया। कंपनी ने अपनी योजनाओं का खाका प्रस्तुत किया और उसके कार्यान्वयन के लिए तैयार योजनाओं की रूपरखा भी पेश की। श्री एगोस्टेन ने स्लाइड शो के माध्यम से अपनी कार्यप्रणाली का प्रदर्शन किया। उन्होंने बताया कि 6 मई तक वे अपनी ट्रैफिक प्लानिंग रिपोर्ट तैयार कर लेंगे। इसके बाद रल अधिकारियों के साथ बैठक कर 27 मई तक आधारभूत संरचना के विकास की रिपोर्ट तैयार होगी।ड्ढr ड्ढr मास्टर प्लान के अनुरूप मौजूदा कार्यालय, क्वार्टर, रस्ट हाउस व अन्य भवनों के पुनर्निर्माण पर विचार-विमर्श किया गया। बैठक में अपर महाप्रबंधक सह मुख्य यांत्रिक इंजीनियर कौशल किशोर, प्रमुख मुख्य इंजीनियर एस.सी. झा, मुख्य सिग्नल व दूरसंचार इंजीनियर ए.के. मिश्र, वी.जे. महादिक, एन.के. तुली, दलबीर सिंह, विकास चन्द्रा, जनार्दन प्रसाद, अमिताभ प्रभाकर के अलावा उपमहाप्रबंधक सह मुख्य जनसंपर्क अधिकारी ए.के. चन्द्रा भी मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पटना जं. के मास्टर प्लान पर हुई चर्चा