DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भीषण गर्मी में बिजली ने रुला दिया

भीषण गर्मी में बिजली ने रुला दिया। बिजली की कमी व तकनीकी कारणों से बिजली घंटों गुल रही। सबसे अधिक तबाही जक्कनपुर व खगौल ग्रिड से जुड़े मोहल्लों में रही। जक्कनपुर ग्रिड तीन बार बैठा। खगौल ग्रिड से दो घंटे तक बिजली बाधित रही। जक्कनपुर ग्रिड से जुड़े इलाकों में लगभग चार घंटे तक बिजली ने परशान किया। खगौल के पास बाधा पहुंचने से कैनाल फीडर दो घंटे बंद रहा। नतीजतन शहर की लगभग आधी से अधिक आबादी तबाह रही। शाम के बाद रोज का रोना रहा यानी लोडशेडिंग।ड्ढr ड्ढr घंटा व दो घंटा तक दक्षिणी व मध्य पटना के मोहल्ले अंधेर में डूबे रहे। बिहारशरीफ सुपरग्रिड का एक डेढ़ सौ मेगावाट का पावर ट्रांसफार्मर तकनीकी कारणों से आधे से एक घंटे तक बंद रहा। बड़ी पहाड़ी के पास घासफूस में लगी आग के कारण बिहारशरीफ-फतुहा होकर जक्कनपुर ग्रिड तक पहुंचनी वाली बिजली बाधित रही। सुबह 10 से दोपहर 2 बजे के बीच करीब यह ग्रिड तीन बार ट्रिप कर गया। ग्रिड से जुड़े मोहल्लों अनीसाबाद,ग्ोर्दनीबाग, स्टेशन रोड,मौर्यालोक ,बुद्धमार्ग, फ्रजर रोड आदि में लगभग चार घंटे तक बिजली ने रुला दिया। खगौल के पास आंदोलन के चलते उग्र हुए लोगों ने कैनाल फीडर को बंद करा दिया नतीजतन खगौल ग्रिड से जुड़े कई मोहल्ले में दोपहर में करीब दो से ढाई घंटे तक बिजली गुल रही। इससे राजापुर पुल, पाटलिपुत्र पावर स्टेशन से आपूर्ति सुबह 11 से 1 बजे के बीच बाधित रही। पाटलिपुत्र, राजापुल न्यू पाटलिपुत्र, जगदेव पथ सहित कई मोहल्ले में लोग हलकान रहे। पेसू के जीएम राजनाथ सिंह ने बताया कि जक्कनपुर ग्रिड से लगभग डेढ़ घंटे तक बिजली की आपूर्ति बाधित रही। विद्युत बोर्ड के प्रवक्ता एसके घोष ने बताया कि सेंट्रल सेक्टर से 870 से 884 मेगावाट बिजली मिली। बरौनी से भी 60 मेगावाट पर कांटी बंद रही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भीषण गर्मी में बिजली ने रुला दिया