class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चिलचिलाती धूप में भी डय़ूटी पर मुस्तैद

जहां एक तरफ लोगों को इस भीषण गर्मी व चिलचिलाती धूप में घर से बाहर निकलना मुहाल है वहीं दूसरी तरफ सैकड़ों यातायात पुलिस अपने डय़ूटी करने में लगे है। हालांकि उन्हें वाहनों के परिचालन को पटरी पर लाने के लिए बिना छत के ही शहर के कई जगहों पर काम करना पड़ता है। आखिर ये बेचार करं तो भी क्या करं उनके पास इसके सिवा कोई चारा भी नहीं है।ड्ढr ड्ढr काम के बोझ तथा सुविधाओं की कमी रहने की वजह से कर्मियों के स्वास्थ्य पर भी इसका असर पड़ रहा है। बावजूद असहाय कर्मी इसकी शिकायत भी नहीं कर सकते। हालत यह है कि ड्यूटी के दौरान इन्हें अपने लबों को तर करने के एक ग्लास ठंडे पानी के लिए तरसना पड़ता है तो उनके लिए साफ्ट ड्रिंक की बात नही करं तो ही बेहतर है। बेली रोड स्थित ललित भवन चौराहे के पास तैनात कर्मी रामानुज शर्मा ने बताया कि उन्हें एक ग्लास पानी के लिए ललित भवन के तीसर मंजिल पर जाना पड़ता है। अगर इस भवन के कोई अधिकारी शौच का उपयोग करते देख लेते हैं तो उन्हें उनकी फटकार भी सुननी पड़ती है। उन्होंने कहा कि लगातार डय़ूटी करने से पिछले साल किडनी इंफेक्शन हो गया था। मेरी पत्नी हर्ट पेशंट है तथा पुत्र को ब्लड कैंसर ने अपनी चपेट में ले रखा है। पिछले साल अप्रैल मे पुत्र के इलाज के लिए एक सप्ताह की छुट्टी पर था। लेकिन उसकी हालत चिंताजनक होने के चलते छुट्टी समाप्त होने के चार दिन बाद काम पर लौटा पर दस दिनों का वेतन काट लिया गया। धर्मेन्द्र कुमार बताते हैँ कि उन्हें भीषण गर्मी के चलते नाक से रक्तस्राव होने लगा है। यातायात पुलिस को सप्ताहिक छुट्टी भी नहीं मिलती है। यहां तक कि उन्हें पेयजल के लिए स्थानीय ढाबों तथा रस्तरां का चक्कर काटना पड़ता है। डाकबंगला चौराहे पर दिनेश कुमार ने कहा कि आठ घंटे तक कड़ी डय़ूटी करने से उन्हें दम्मा सहित स्वास्थ्य संबंधी कई शिकायतें हो गई हैं। चिकित्सक ने उन्हें काम करने के दौरान वायु प्रदूषण मास्क लगाने की सलाह दी है पर यह मेर बूते से बाहर है। हरक साल यातायात पुलिसकर्मियों को वर्दी भत्ता के रूप में मात्र 2650 रुपए मिलते हैं जो पर्याप्त नहीं है। उन्होंने कहा कि एक गमबूट की कीमत 200 रुपए है जो दो माह से अधिक नहीं चलता है। वहीं एक जोड़ा जूता तथा मोजा 450 रुपए में आती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: चिलचिलाती धूप में भी डय़ूटी पर मुस्तैद