class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आजमगढ़ में दो गुटों में संघर्ष, पांच मरे

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के जहानागंज क्षेत्र के समस्तीपुर गांव में शनिवार सुबह दो गुटों में हुए संघर्ष में डीहा गांव के प्रधान पप्पू सिंह समेत पांच लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई। मरने वालों में एक हमलावर भी शामिल है, जिसकी शिनाख्त नहीं हो सकी है। संघर्ष में गंभीर रूप से घायल दो व्यक्ितयों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस प्रवक्ता के अनुसार डीहा गांव के ग्राम प्रधान पप्पू सिंह अपने साथियों के साथ समस्तीपुर गांव में सकदीप यादव के लड़की की शादी में गए थे। गांव से वापस लौटते समय समस्तीपुर गांव के पास ही पहले से घात लगाकर बैठे हमलावरों ने पहले उनपर बम से प्रहार किया और बाद में ग्राम प्रधान पप्पू सिंह और उनके साथियों पर ताबड़तोड़ गोली चलाई। इस घटना में पप्पू सिंह व उनके तीन अन्य साथी मारे गए। इस दौरान आत्मरक्षार्थ पप्पू सिंह के गनर ने भी गोली चलाई, जिसमें हमलावर भी बुरी तरह जख्मी हो गया था, जिसे गांववालों ने बाद में पीट.पीटकर मार डाला। मारे गए लोगों में पप्पू सिंह के अलावा उनका अंगरक्षक पिन्टू सिंह (24) विट्ठ सिंह (25) तथा नीरज सिंह (25) शामिल हैं। सभी डीहा गांव के निवासी थे। इस घटना में पप्पू सिंह का एक परिजन अरुण और उनका ड्राइवर रामप्यारे गंभीर रूप से घायल हुए। हमलावरों की तरफ से मारे गए व्यक्ित की शिनाख्त नहीं हुई है। मौके पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक वीके गर्ग ने इस घटना को आपसी रंजिश का परिणाम बताया है। पुलिस मुकदमा पंजीकृत कर मामले की छानबीन कर रही है। इस घटना के बाद गांव में तनाव है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आजमगढ़ में दो गुटों में संघर्ष, पांच मरे