DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली टीम कचची नजर हैट-ट्रिकचच पर

दिल्ली के जांबाज आईपीएल 20-20 क्रिकेट टूर्नामेंट में रविवार को मोहाली के खिलाफ खेलने उतरेंगे तो उनकी नजरें जीत की हैट्रिक बनाने पर लगी होंगी। दिल्ली ने अब तक सबसे प्रभावशाली प्रदर्शन करते हुए अपने दोनों मैच नौ-नौ विकेट के बड़े अंतर से जीते हैं। दिल्ली ने पहले जयपुर को और फिर हैदराबाद को नौ-नौ विकेट से धूल चटाई थी। दोनों ही मैचों में प्रतिद्वंद्वी टीम के खिलाड़ी दिल्ली के सामने कोई चुनौती नहीं रख पाए थे। दिल्ली के तीसरे प्रतिद्वंद्वी मोहाली ने हालांकि शुक्रवार को मुंबई को 66 रन से आसानी से पराजित किया था। लेकिन दिल्ली को रोक पाना उसके लिए बहुत मुश्किल काम होगा। मोहाली की टीम यह मैच आसानी से तो जीत गई। लेकिन उसके गेंदबाज शांतकुमारन श्रीसंत को मुंबई के कप्तान हरभजन सिंह के थप्पड़ मारने के मामले ने इस जीत के जश्न को कहीं कोने में दबा दिया। मोहाली टीम जब दिल्ली के खिलाफ अपने मैदान पर उतरेगी तो निश्चित रूप से उस प्रकरण की छाया कहीं न कहीं उसके खिलाड़ियों पर मंडराती रहेगी। युवराज सिंह की अगुआई वाली मोहाली के लड़ाकों को इस प्रकरण को अपने दिमाग से बिल्कुल बाहर निकालते हुए जबर्दस्त फार्म में चल रहे दिल्ली से लोहा लेना होगा। दिल्ली टूर्नामेंट में बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों लिहाज से अन्य टीमों के मुकाबले कहीं ज्यादा संतुलित नजर आ रही है। बल्लेबाजी में तो यह स्थिति है कि तीसरे नंबर के बल्लेबाज के बाद अन्य बल्लेबाजों को अभी तक अपना बल्ला भांजने का मौका नहीं मिला है। जयपुर के खिलाफ गौतम गंभीर और शिखर धवन ने नॉटआउट अर्धशतक ठोके थे। जबकि कप्तान वीरेन्द्र सहवाग ने हैदराबाद के खिलाफ मात्र 41 गेंदों में नॉटआउट रन ठोक डाले थे। दूसरी तरफ गेंदबाजी में भी दिल्ली के धुरंधरों की तूती बोल रही है। ग्लेन मैकग्रा, मोहम्मद आसिफ और फरवीज महारूफ तथा रणजी खिलाड़ी रजत भाटिया ने अब तक प्रतिद्वंद्वी बल्लेबाजों को बड़ा स्कोर खड़ा करने का कोई मौका नहीं दिया है। टी २0 में मैकग्रा की सटीकता का तो आलम यह है कि वह ऑफ स्टंप पर बल्लेबाजों को खुलकर शॉट मारने का कोई मौका नहीं दे रहे हैं। आसिफ की स्विंग बल्लेबाजों को अच्छा खासा परेशान कर रही है। महारूफ तो पहले मैच में मैन आफ द मैच रहे थे। दिल्ली के सलाहकार और पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज डेनिस लिली का मानना है कि उनकी टीम का तेज गेंदबाजी आक्रमण इस समय टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा सशक्त है। साथ ही दिल्ली को लिली के अमूल्य मार्गदर्शन का भी भरपूर फायदा मिल रहा है। इसके विपरीत मोहाली के पास भी ब्रेट ली, इरफान पठान और श्रीसंत के रूप में तीन बेहतरीन गेंदबाज हैं। इन तीनों ने ही मुंबई के खिलाफ अपनी टीम की जीत में उल्लेखनीय योगदान दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दिल्ली टीम कचची नजर हैट-ट्रिकचच पर