अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिन्दीभाषियों पर हमले में केंद्र चुप नहीं रहेगा

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री डा. शकील अहमद ने कहा है कि हिन्दीभाषियों पर विभिन्न राज्यों में हो रहे हमले को केंद्र सरकार मूकदर्शक बन कर नहीं देखती रहेगी। कानून-व्यवस्था राज्य का मामला है फिर भी जरूरत पड़ने पर केंद्र सरकार हस्तक्षेप कर सकती है। डा. अहमद शनिवार को सदाकत आश्रम में धन्यवाद सभा को संबोधित कर रहे थे। सभा का आयोजन युवा कांग्रेस ने किया। उन्होंने हिन्दीभाषियों से अपील की कि वे जहां भी रहें स्थानीय लोगों से सामंजस्य बिठाकर रहें। डा. अहमद ने कहा कि बिहार में कांग्रेस इसलिए कमजोर हुई क्योंकि हम जाति की राजनीति नहीं करते हैं। जातिवाद से समाज को नहीं, किसी खास नेता को फायदा हो सकता है। विकास में तो सबका हित है।ड्ढr ड्ढr प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सदानंद सिंह ने डा. अहमद को गृह राज्यमंत्री बनाने के लिए सोनिया गांधी और डा. मनमोहन सिंह के प्रति आभार व्यक्त किया। श्री सिंह ने सभा की अध्यक्षता की। मंच का संचालन युवा कांग्रेस के महासचिव कुमार आशीष ने किया। उन्होंने राज्यमंत्री को अभिनंदन पत्र दिया। प्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष तरुण कुमार ने स्वागत भाषण किया। युवा कांग्रेस के प्रभारी अशोक चौधरी ने मंत्री को स्वर्ण मुकुट पहनाया। मंच पर बैठे नेताओं को युवा कांग्रेस की ओर से प्रतीक चिह्न् दिया गया। धन्यवाद सभा में कृपानाथ पाठक, डा. ज्योति, वीणा शाही, नरंद्र सिंह, अजय चौधरी, हरखू झा, राज कुमार राजन सहित पार्टी के कई वरिष्ठ नेता मौजूद थे। इससे पहले पटना हवाई अड्डे से डा. अहमद बड़े काफिले के साथ सदाकत आश्रम पहुंचे। मोटरसाइकिल पर सवार युवा कांग्रेसी उनके साथ चल रहे थे। आश्रम में पहुंचते ही डा. अहमद पर फूलों की वर्षा की गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हिन्दीभाषियों पर हमले में केंद्र चुप नहीं रहेगा