अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सभी प्रखंडों में खुलेंगे सूचना केंद्र

उन्नत खेती के बूते राज्य के विकास का सपना संजोने वाले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को योजनाओं के क्रियान्वयन में विलंब कतई गवारा नहीं। लिहाजा राज्य सरकार ने केन्द्र की मंथर गति से चल रही योजनाओं को भी टॉप गियर में डाल दिया है। हर साल एक जिले में किसानों के लिए खोला जाने वाला सूचना व सलाहकार केन्द्र अब सभी प्रखंडों में खुलेगा, वह भी मात्र दो वर्षो में। चालू वर्ष में लगभग ढाई सौ प्रखंडों में ये केन्द्र खोल दिए जाएंगे। इसके लिए राज्य सरकार केन्द्र के पैसे का इन्तजार भी नहीं करेगी।ड्ढr ड्ढr अपनी राशि से भवन बनाएगी और केन्द्र से मिले कंप्यूटर को उसमें रखकर इन्टरनेट की व्यवस्था कर देगी। उपस्करों के लिए भी पैसा राज्य सरकार ही देगी। बामेति के निदेश डा. आरके सोहाने ने बताया कि विश्व बैंक संपोषित योजना के तहत पटना, मुंगेर, मुजफ्फरपुर और मधुबनी जिलों के 6प्रखंडों में पहले से ऐसे केन्द्र चलाए जा रहे हैं। राज्य सरकार ने किसानों की रो- रो की समस्याओं के निदान के लिए इसे उपयोगी माना और यह फैसला लिया कि हर प्रखंड में इसकी स्थापना होनी चाहिए। इसके पूर्व केन्द्र ने भी इस योजना की शुरूआत की थी । केन्द्र को हर वर्ष एक जिले में ऐसा एक केन्द्र खोलना था।ड्ढr ड्ढr लेकिन केन्द्र यहां भी भवन की राशि नहीं दे रहा था। श्री सोहाने के अनुसार हर प्रखंड में ऐसे केन्द्र के खुल जाने से किसानों को बहुत लाभ होगा। इसका संचालन कृषक सलाहकार समिति करगी। समिति को तकनीकी सहायता प्रखंड तकनीकी दल के सदस्यों से मिलेगी। आत्मा के प्रखंड स्तर के कार्यकलापों में इनकी प्रमुख भूमिका होगी।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सभी प्रखंडों में खुलेंगे सूचना केंद्र