DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टाइटलर और सज्जन कुमार हुए बेटिकट

सिख पत्रकार जरनैल सिंह के जूते की मार कांग्रेस नेता जगदीश टाइटलर और सज्जन कुमार को काफी महंगी पड़ी। इन दोनों के लोकसभा टिकट कट गए हैं। कांग्रेस आलाकमान ने ने गुरुवार को इन दानों की उम्मीदवारी वापस लेने का फैसला किया। सिख दंगों में आरोपी सज्जन कुमार साउथ दिल्ली और जगदीश टाइटलर नार्थ-ईस्ट दिल्ली से कांग्रेस के उम्मीदवार थे।ड्ढr ड्ढr 1े सिख विरोधी दंगों में भूमिका को लेकर सिख समुदाय के भारी विरोध को देखते हुए कांग्रेस नेता जगदीश टाइटलर और सज्जन कुमार को कांग्रेस ने बेटिकट करने का निर्णय लिया। इसके पहले टाइटलर ने संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि मेरे खिलाफ यह भारतीय जनता पार्टी और अकाली दल की साजिश है। उन्होंने कहा कि मेरे परिवार को बहुत ही दुख पहुंचा है और सम्मान को धक्का लगा है। उन्होंने कहा कि ऐसी स्थिति में वह चुनाव नहीं लड़ना चाहते है। इससे पहले दिल्ली की एक अदालत ने जगदीश टाइटलर की 1े सिख विरोधी दंगों में भूमिका से जुड़े मामले की सुनवाई 28 अप्रैल तक के लिए टाल दी है। अदालत ने इस मामले की सुनवाई करते हुए गुरुवार को कहा कि वह इस बारे में केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की रिपोर्ट का आगे और अध्ययन करेगी। सीबीआई ने अपनी रिपोर्ट में टाइटलर को क्लीन चिट दी है। केन्द्रीय जांच ब्यूरो ने रिपोर्ट में कहा है कि टाइटलर के खिलाफ मुकदमा चलाने के लिए ठोस सबूत नहीं हैं। कांग्रेसी नेता पर 1े दंगों में सिख समुदाय के खिलाफ हिंसा भड़काने का आरोप है।ड्ढr ड्ढr प्रेस कांफ्रेंस में टाइटलर ने कहा कि मैं कांग्रेस का अनुशासित कार्यकर्ता रहा हूं और हमेशा पार्टी के लिए काम करता रहूंगा। मेरे खिलाफ दोनों ही गवाह झूठे हैं। उन्होंने मीडिया को इस संबंध में कई जानकारियां दी। उन्होंने कहा कि 1में ही उन्हें क्लीन चिट मिल गई थी, जब अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार थी।गौरतलब है कि दिल्ली में 7 मई को चुनाव होने वाले हैं और नामांकन भरने की अंतिम तारिख 18 अप्रैल तथा नामांकन वापस लेने की अंतिम तारिख 22 अप्रैल है। टाइटलर उत्तर पूर्वी दिल्ली से कांग्रेस के उम्मीदवार हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: टाइटलर और सज्जन कुमार हुए बेटिकट