अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दुमका में मुठभेड़ तीन जवान शहीद

संथाल परगना के शिकारीपाड़ा में नक्सलियों और पुलिस के बीच हुई मुठभेड़ में राष्ट्रपति पदक से सम्मानित थानेदार शमसाद अंसारी सहित तीन पुलिसकर्मी शहीद हो गये। शनिवार की सुबह शिकारीपाड़ा के पोखरिया में हुई इस मुठभेड़ में पुलिस की गोली से धनबाद के एक नक्सली सबास्टीन के ढेर होने की खबर है। इस गोलबारी में ग्रामीण कालू देहरी की भी मौत हो गयी। भाकपा माओवादी का एरिया कमांडर मनोज देहरी घटनास्थल से गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने दो एसएलआर के साथ ही भारी मात्रा में गोली और नक्सली साहित्य जब्त किया है। संथाल परगना में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ की यह पहली घटना है। रांची से आइजी ऑपरेशन बीके पांडेय और आरके मल्लिक के साथ ही दुमका के आइजी हरेकृष्ण मिश्रा शिकारीपाड़ा पहुंच गये है। इस बीच, रांची में डीाीपी वीडी राम ने मृत जवानों के परिानों को दस-दस लाख का मुआवजा और एक-एक सदस्य को नौकरी देने का एलान किया है। शिकारीपाड़ा में बरामद हथियार होमगार्ड प्रशिक्षण केंद्र गिरिडीह से लूटे गये थे। घटना को अंजाम देनेवालों की पहचान कर ली गयी है, उन्हें गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दुमका में मुठभेड़ तीन जवान शहीद