DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमानवीय: जीआरपी से भागा और ट्रेन से कट गया यात्री

बिना टिकट यात्रा करने का आरोप लगाते हुए रेल कर्मियों ने एक युवक को कई घंटे दरियाबाद स्टेशन पर बैठाए रखा। इतना ही नहीं उसे जेल भेजने की धमकी देते हुए उससे पटरियों का मैला भी साफ कराया । प्रताड़ना से परेशान युवक वहां से गुजर रही दूसरी ट्रेन पकड़ने के लिए भागा लेकिन पैर फिसल जाने के कारण वह ट्रेन के नीचे आकर कट गया। घटना के बाद यात्रियों के गुस्से को देखते हुए स्टेशन मास्टर वहां से भाग निकले । उधर जीआरपी का कहना है कि मामले की जांच के बाद ही सच्चाई पता चल पाएगी।
 
शनिवार को तड़के 3 बजे एक युवक साबरमती एक्सप्रेस ट्रेन से उतरा। स्टेशन पर मौजूद दूसरे यात्राियों के मुताबिक  रेलकर्मचारियों ने बिना टिकट बताते हुए उसे रोक लिया। हद तो तब हो गई जब रेलकर्मियों ने युवक को जेल भेजने की धमकी देते हुए उससे पटरी पर पड़ी गंदगी और मैला साफ करने को कहा। युवक ने रेलवे पटरी पर गंदगी को साफ करना शुरू किया। इसी बीच मेन लाइन से ट्रेन संख्या 15667 कामाख्या एक्सप्रेस निकली। यह ट्रेन स्टेशन पर नहीं रुकती है। जैसे ही ट्रेन की गति धीमी हुई युवक उसे पकड़ने के लिए दौड़ पड़ा। ट्रेन पर चढ़ने का प्रयास करते समय उसका पैर फिसल गया और वह ट्रेन के नीचे आकर कट गया। घटना के बाद स्टेशन मास्टर कौशलेन्द्र सिंह नदारद हो गए। सहायक स्टेशन मास्टर एनके यादव ने ट्रेनों का संचालन करवाया। मीडिया कर्मियों ने जब उनसे घटना के बाबत पूछा तो वे बोले कि घटना उनके सामने नहीं हुई है। स्टेशन मास्टर के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि मुङो इसकी जानकारी नहीं है। देर शाम तक स्टेशन मास्टर का मोबाइल स्विच आफ आता रहा। उधर तलाशी के दौरान मृतक के पास से जीआरपी ने कई सिमकार्ड बरामद किए। युवक की शिनाख्त के काफी प्रयास किए गए लेकिन शिनाख्त नहीं हो सकी ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अमानवीय: जीआरपी से भागा और ट्रेन से कट गया यात्री