DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कश्मीर में घुसपैठ रोकने लेजर वाल, स्मार्ट फेंसिंग

कश्मीर में घुसपैठ रोकने लेजर वाल, स्मार्ट फेंसिंग

भारत को जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ पूरी तरह रोकने के लिए अत्याधुनिक लेजर और सेंसर तकनीक वाली दीवारें और फेंसिंग जल्दी ही खड़ी करनी होगी। हालांकि सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने इरादा जताया है कि वह दुर्गम सीमा पर लेजर दीवार, सुरंग रोधी सेंसर, अलार्म सेंसर फेंसिंग लगाना चाहता है। यह तकनीक इजराइल के पास उपलब्ध हैं। येरूशलम में लेजर वाल लगी हुई है। इतना ही नहीं अमेरिका ने मैक्सिको से घुसने वाले हजारों लोगों को रोकने लिए येरूशलम वाली लेजर दीवार लगाने का ठेका इजराइल को दे भी दिया है।

1-लेजर वाल
इजराइल में आतंकी घुसपैठ रोकने के लिए येरूशलम में लेजर वाल लगाई गई है। जैसे ही कोई भी सीमा की तरफ बढ़ता है या बिना फेंसिंग के क्षेत्र में बीम को पार करने की कोशिश करता है तो अलार्म बज उठता है। लेजर वाल नदी क्षेत्र के लिए मुफीद है क्योंकि यहां फेंसिंग की नहीं जा सकती। इस प्रणाली को जैसे कोई पार करता है, अलार्म बजने लगता है। वर्तमान में भारत-पाक सीमा का 15 प्रतिशत और भारत-बांग्लादेश सीमा का 35 प्रतिशत इलाका बिना बाड़ का है।

अमेरिका लगाएगा यह वाल:
अमेरिका के होमलैंड सिक्यूरिटी विभाग ने मैक्सिको से होने वाली घुसपैठ से परेशान होकर इजराइली कंपनी एलबिट सिस्टम को लेजर वाल सहित कई तरह की सुरक्षा दीवारें लगाने का 145 मिलियन अमेरिकी डॉलर का ठेका इसी साल मार्च में दिया है। अमेरिका-मैक्सिको की छह हजार मील की सीमा से हर साल हजारों लोग एरिजोना में घुस आते हैं। यह राज्य इस प्रणाली के लिए एक दशक से ज्यादा समय से इंतजार कर रहा था।

इजराइल में आतंकी हिंसा घटी
एलबिट कंपनी ने इजराइल में कई तरह के सीमा सुरक्षा योजनाओं को लागू किया है। इसमें फलस्तीनी प्राधिकरण से लगने वाली सीमा पर न सिर्फ टॉवर आधारित लेजर बीम वाल बनी हुई है बल्कि हजारों किलोमीटर लंबी एक सेपरेशन लाइन का भी निर्माण किया गया है। सेपरेशन लाइन और लेजर वाल बनने के कारण 2004 के बाद से इजराइल में आतंकी हिंसा में जबरदस्त गिरावट आई है। इसके अलावा कंपनी गाजा और मिस्र् की सीमा परर मल्टी सेंसर सर्विलांस सिस्टम के तहत भी सुरक्षा प्रदान कर रही है।

2-सुरंगरोधी सेंसर
बिना फेंसिंग वाले इलाके में लेजर वाल के अलावा बाडम् वाले इलाकोंमें सुरंगरोधी जमीन सेंसर और थर्मल सेंसर लगाने की भी योजना है। अब जहां बाडम् लगी हुई है, आतंकी वहां सुरंग खोदकर घुस आते हैं। अब सीमा पर सेस्मिक सेंसर जमीन के भीतर लगाए जाएंगे। जैसे ही किसी सुरंग में हलचल होगी, ये सेंसर कंट्रोल रूम को सूचना भेज देंगे। यह जम्मू और पंजाब में सीमा पर लगाने की योजना है। यहां सुरंग से ज्यादा घुसपैठ के प्रयास होते हैं।

3-स्मार्ट फेंसिंग सिस्टम
जहां फेंसिंग है, वहां थर्मल सेंसर को लगाया जाएगा। इस तरह स्मार्ट फेंसिंग सिस्टम लागू होते ही किसी भी व्यक्ति के आने की सूचना कंट्रोल रूम को मिल जाएगी।

4-यूएवी के लिए भी प्रयास
बीएसएफ अनमेंड एरियल व्हीकल और अन्य सर्विलांस उपकरण खरीदने का भी प्रयास कर रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कश्मीर में घुसपैठ रोकने लेजर वाल, स्मार्ट फेंसिंग