DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विद्रोह दबाने को भाजपा की बैठक आज

बिहार संकट के हल के लिए भाजपा केन्द्रीय नेतृत्व ने सोमवार को दिल्ली में बैठक बुलाई है। राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह के निवास पर होने वाली केन्द्रीय कोर कमेटी की बैठक में किसी महत्वपूर्ण निर्णय की उम्मीद है। इसमें भाग लेने के लिए उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, प्रदेश अध्यक्ष राधामोहन सिंह और क्षेत्रीय संगठन प्रभारी हृदयनाथ सिंह के अलावा स्वास्थ्य मंत्री नन्दकिशोर यादव और पीएचईडी मंत्री अश्विनी कुमार चौबे को दिल्ली तलब किया गया है।ड्ढr ड्ढr श्री यादव शनिवार की रात दिल्ली से चले थे वहीं राधामोहन सिंह भी रविवार की सुबह ही पटना पहुंचे हैं। कुछ नेता रविवार की रात को और कुछ सोमवार की सुबह दिल्ली रवाना होंगे। बैठक में प्रदेश प्रभारी कलराज मिश्र भी रहेंगे। बिहार के ‘जख्मी दिल वाले’ नेता विधायकों की भावनाओं से आलाकमान को अवगत कराएंगे। बताया जाता है कि पहले यह बैठक दो मई को बुलाई जानी थी, मगर मामले की गंभीरता को महसूस करते हुए आलाकमान ने इसे सोमवार को बुलाना तय किया है। कर्नाटक चुनाव के सिलसिले में बेंगलुरू गए राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री सिंह रविवार की रात दिल्ली लौट रहे हैं। श्री मिश्र द्वारा बागी विधायकों से मुलाकात की ‘गरमागरम’ रिपोर्ट सौंपने के बाद केन्द्रीय नेतृत्व भी इस मामले का महाराष्ट्र की ही तरह जल्द पटाक्षेप चाहता है। वैसे आलाकमान ने कर्नाटक और लोकसभा चुनाव का हवाला देकर फिलहाल बिहार में नेतृत्व परिवर्तन पर विमर्श को टालना चाहा था लेकिन बागी विधायकों के दबाव के मद्देनजर इसे टालना उचित नहीं समझा गया। दूसरी तरफ रविवार को भी पटना में विक्षुब्ध गतिविधियां पूर शबाब पर रहीं। एक पूर्व मंत्री के यहां बागी विधायकों की ‘कोर कमेटी’ की बैठक हुई। असंतुष्ट जमात की तरफ से एक विधायक ने दावा किया कि अपनी मुहिम में सफल हुए बिना वे सभी चैन नहीं लेंगे। सुबह रामेश्वर चौरसिया भी दिल्ली से पटना पहुंचे। मालूम हो कि श्री चौरसिया भी असंतुष्टों की जमात में शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: विद्रोह दबाने को भाजपा की बैठक आज