DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आतंकवादियों ने लोकतंत्र पर हमला किया: प्रधानमंत्री

आतंकवादियों ने लोकतंत्र पर हमला किया: प्रधानमंत्री

कश्मीर घाटी में आतंकी हमलों के एक दिन बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि आतंकवादियों ने भारतीय लोकतंत्र पर हमले की कोशिश की, लेकिन बहादुर जवानों ने अपने प्राण न्यौछावर करते हुए देश की रक्षा की। प्रधानमंत्री ने आतंकियों से लड़ते हुए अपनी जान गंवाने वाले शहीदों को श्रद्धांजलि भी दी।

उन्होंने एक चुनावी रैली में कहा कि आतंकवादियों ने भारत के लोकतंत्र पर हमले की कोशिश की। लेकिन, बहादुर जवानों ने अपना प्राण न्यौछावर करते हुए देश की रक्षा की। उन्होंने कहा कि मैं झारखंड के बहादुर बेटे संकल्प कुमार शुक्ला और अपना प्राण न्यौछावर करने वाले अन्य जांबाज जवानों को श्रद्धांजलि देता हूं। राज्य की आगामी पीढ़ियां संकल्प कुमार शुक्ला के बलिदान को याद रखेंगी।

सीमा पार से आतंकियों के चार हमलों से कल कश्मीर घाटी दहल उठी। उरी में सैन्य शिविर पर हमले में लेफ्टिनेंट कर्नल संकल्प कुमार सहित 11 सुरक्षा कर्मियों की मौत हो गई, जबकि त्राल में दो आम नागरिकों की मौत हो गयी।

विकास की राजनीति से देश का भला होगा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि देश में जातिवाद, क्षेत्रवाद और संप्रदायवाद की राजनीति बंद होनी चाहिए क्योंकि देश का भला विकास की राजनीति से ही होगा। झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार के सिलसिले में आज आए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गांधी मैदान में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, जातिवाद, क्षेत्रवाद, शहर-गांव, धर्म आदि की राजनीति बहुत हो चुकी। सबने अपना स्वार्थ साधा, अपने पाकेट भरे। अब समय की मांग है कि हम अब ये सारे रास्ते छोड़ें और विकास की राजनीति करें क्योंकि इसी से देश का भला होगा।

उन्होंने लोगों का आहवान किया कि वह अब विकास के लिए सरकार चुने। जाति बिरादरी की राजनीति अब नहीं होने देनी है। उन्होंने युवाओं से सवाल किया कि क्या उन्हें जाति बिरादरीवाद से रोजगार मिलेगा, भीड़ ने जवाब दिया, नहीं मिलेगा, जिसके जवाब में मोदी ने कहा, इसीलिए जरूरी है कि सिर्फ विकास की राजनीति करें क्योंकि कल कारखाने बनेंगे, सिंचाई के साधन बनेंगे तभी रोजगार सृजित होंगे और देश का भला होगा।

मोदी ने कहा कि अब वक्त आ गया है कि झारखंड को केन्द्र की भांति मिली जुली सरकार के झंझट से मुक्त किया जाये, लिहाजा पूर्ण बहुमत से भाजपा की सरकार जनता बनाये जिससे यहां विकास की गंगा प्रवाहित की जा सके। उन्होंने कहा कि झारखंड में देश का अग्रणी राज्य बनने की सभी संभावनाएं हैं। इतना ही नहीं देश के अनेक अन्य राज्यों को भी मदद करने की इस राज्य में क्षमता है लेकिन जब यहां के लोग दूसरे राज्यों में जाकर मजदूरी करने को मजबूर होते हैं तो उन्हें बहुत बुरा लगता है। अगर लोगों को अपने राज्य में ही रोजगार मिलने लगे तो वह घर से दूर क्यों भटकेंगे। उन्होंने कहा कि मैं सरकार गरीबों के लिए चलाना चाहता हूं। कुछ वर्ष पूर्व देश में कुछ दलों को लगता था कि उन्होंने ही गरीबों का ठेका ले रखा है। लेकिन आज गरीबों का सबसे अधिक प्यार हमें ही मिल रहा है जिसके लिए हम उनके आभारी हैं।

उत्साह से भरी हजारों की भीड़ से मोदी ने शिकायती लहजे में कहा कि उन्हें इस बात की शिकायत है कि आखिर जनता उनकी रैलियों में लोकसभा चुनाव में इससे काफी कम क्यों आती थी। मोदी ने जब कहा कि आज तो लोकसभा चुनाव की रैली की तुलना में दोगुने लोग आये हैं तो भीड़ ने भारी करतल ध्वनि से उनका अभिनन्दन किया।

प्रधानमंत्री जनधन योजना का उल्लेख करते हुए मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने प्रति सप्ताह एक करोड़ लोगों के बैंकों में खाते खुलवाये जबकि पिछली सरकार एक वर्ष में एक करोड़ खाते खुलवाती थी। प्रधानमंत्री ने पिछली कांग्रेस सरकारों पर व्यंग्य करते हुए कहा, लगभग चालीस वर्ष पूर्व तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने देश में बैंकों का यह कह कर राष्ट्रीयकरण किया कि सिर्फ धन्ना सेठों के बजाय अब बैंक गरीबों के लिए भी हुआ करेंगे लेकिन क्या देश के गरीबों के खाते बैंकों में खुले लेकिन मेरी सरकार बनने के बाद सिर्फ छह माह में सात करोड़ से अधिक गरीब लोगों के खाते बैंकों में खुल गये हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार किसे कहते हैं यह देश की जनता ने देख लिया है। आज इस सरकार ने देश के सभी गरीबों के खाते बैंक में खुलवाने का संकल्प कर लिया है और वह यह कर के दिखायेगी। उन्होंने कहा कि राज्य और देश को विकास के रास्ते पर ले जाना है और अब इससे उन्हें कोई रोक नहीं सकता।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आतंकवादियों ने लोकतंत्र पर हमला किया: प्रधानमंत्री