अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शादी का कार्ड छपाओ, छुट्टी पाओ

अपनी जरूरतों की पूर्ति के लिए लोग एक से एक तरकीब निकाल लेते हैं। अब देखिए, लगन का मौसम तेज है। हुक्मरान अपने मातहतों की छुट्टी पर पाबंदी लगाए बैठे हैं। ऐसे में कर्मचारियों ने नायाब तरकीब निकाली है। महज पचास से साठ रुपए में शादी का एक कार्ड छपाओ और छुट्टी पाओ। कार्ड के साथ आवेदन देने पर छुट्टी देने से कोई अधिकारी मुकर ही नहीं पाता। सो, सरकारी महकमों के कर्मचारियों के बीच यह फॉमरूला ‘सुपर हिट’ हो गया है। जिला प्रशासन, शिक्षा, स्वास्थ्य महकमा हो या पुलिस विभाग।ड्ढr ड्ढr सभी जगह यह तरकीब अपनायी जा रही है। आलाधिकारियों तक को इस खेल की जानकारी है लेकिन इसका कोई ठोस काट उन्हें नजर नहीं आता। मजेदार तो यह है कि छुट्टी के लिए कई कर्मचारी अपने एक ही रिश्तेदार के बेटे की साल में सात-सात बार शादी करवा रहे हैं या फिर अपने वृद्ध पिता का साल में तीन-तीन बार श्राद्ध करवा रहे हैं। ऐसी छुट्टियों के कई मामले खासतौर से रल पुलिस में उजागर हुए हैं। सिपाहियों को जब थानेदार ने छुट्टी नहीं दी तो मामले रल एसपी तक पहुंचे। अब ऐसे उस्तादों की पहचान की जा रही है। रल पुलिस के जवान तो इसके बाद थोड़े हड़क गये हैं लेकिन अन्य महकमों में यह तरीका धड़ल्ले से जारी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शादी का कार्ड छपाओ, छुट्टी पाओ