DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पंजाबः ऑपरेशन करने वाला डॉक्टर, आयोजक गिरफ्तार

पंजाबः ऑपरेशन करने वाला डॉक्टर, आयोजक गिरफ्तार

पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने गुरदासपुर जिले में एक एनजीओ की ओर से लगाए गए नेत्र शिविर में 60 लोगों की आंखों की रोशनी चले जाने की घटना के उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। वहीं, पुलिस ने इस मामले में कथित रूप से ऑपरेशन करने वाले डॉक्टर और शिविर के आयोजक को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया।

इसके अलावा, एक निजी अस्पताल और मथुरा स्थित एक एनजीओ के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने शुक्रवार को बताया कि इस संबंध में पंजाब सरकार से रिपोर्ट मांगी गई है। उन्होंने कहा कि यदि राज्य सरकार को किसी स्तर पर मदद की जरूरत होगी, तो केंद्र उन्हें मुहैया कराएगा।

राज्य सरकार के प्रवक्ता के अनुसार, बादल ने स्वास्थ्य विभाग की प्रधान सचिव विनी महाजन से घटना के सभी पहलुओं की जांच करने को कहा है। मुख्यमंत्री ने पीड़ितों और उनके परिजनों की मदद करने तथा राहत कार्य में तेजी लाने को कहा है। राज्य सरकार की ओर से पीड़ितों के परिवार को एक लाख रुपये की अंतरिम सहायता राशि देने की घोषणा भी की गई है।

मुख्यमंत्री ने पीड़ितों के मुफ्त इलाज की घोषणा करते हुए निर्देश दिया कि सरकारी स्तर पर सभी मरीजों की नए सिरे से जांच की जाए, जिससे उनका इलाज हो सके। बता दें कि गुरदासपुर जिले के घुमान गांव में करीब दस दिन पहले एक एनजीओ की ओर से नेत्र शिविर आयोजित किया गया था, जहां ऑपरेशन के बाद 60 लोगों के आंखों की रोशनी चली गई थी। सूत्रों की मानें तो शिविर लगाने के लिए राज्य सरकार और जिला प्रशासन से अनुमति भी नहीं ली गई थी।

गुरदासपुर के उपायुक्त अभिनव त्रिखा के अनुसार, जालंधर में एक आई केयर सेंटर के डा. विवेक अरोड़ा के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने शिविर के आयोजक मनजीत सिंह को भी गिरफ्तार किया है। वहीं, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने घटना के बाद पंजाब सरकार को नोटिस जारी किया है। आयोग ने गुरदासपुर जिला प्रशासन से घटना के संबंध में रिपोर्ट भी तलब की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पंजाबः ऑपरेशन करने वाला डॉक्टर, आयोजक गिरफ्तार