DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एसएसपी ऑफिस के सामने हथियारबंद प्रदर्शन

सोनारी स्थित दोमुहानी के बस्तीवासियों ने अतिक्रमण हटाने के विरोध में शुक्रवार को एसएसपी ऑफिस के समक्ष हथियार बंद प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने लगभग आधा घंटे तक एसएसपी कार्यालय का गेट जाम रखा। बाबा तिलका माझी, टोला दोमुहानी की ग्रामसभा के बैनर तले यहां पहुंचे प्रदर्शनकारी तीर-धनुष जैसे पारंपरिक हथियारों से लैस थे।

उनका नेतृत्व ग्रामसभा अध्यक्ष चूना राम बास्के कर रहे थे। एसएसपी कार्यालय के गेट के ठीक सामने प्रदर्शनकारियों को रोक दिया गया था। गेट पर ही पुलिसकर्मी तैनात थे। सीसीआर डीएसपी जसिंता केरकेट्टा, डीएसपी बीरेन्द्र यादव, जगदीश प्रसाद, बिष्टूपुर थाना प्रभारी जीतेन्द्र कुमार सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

अपशब्द कहने का आरोप
बस्तीवासी अतिक्रमण हटाने के लिए चलाए गए अभियान से नाराज थे और जमकर नारेबाजी कर रहे थे। बस्तीवासियों का आरोप था कि गुरुवार शाम सिदो-कान्हू बस्ती में अतिक्रमण हटाने के लिए पहुंचे जुस्कोकर्मियों ने करीब 14 घरों में तोड़-फोड़ की और ग्रामसभा के अध्यक्ष चूना राम बास्के के साथ गाली-गलौज भी की।

प्राथमिकी दर्ज करने की मांग
प्रदर्शन में शामिल कृष्णा हांसदा ने कहा कि यह कार्रवाई आदिवासी उत्पीड़न के तहत आती है इसलिए दोषियों पर प्राथमिकी दर्ज की जाए। उन्होंने बताया कि वे इस मामले को लेकर सोनारी थाने गये थे, लेकिन पुलिस ने किसी तरह की कार्रवाई से इनकार किया, जिसके बाद वे एसएसपी ऑफिस पहुंचे। हांसदा ने कहा कि पुलिस ने कार्रवाई नहीं की तो वे मामले को लेकर न्यायालय में जाएंगे।

बस्तीवासियों पर प्राथमिकी दर्ज
इधर, दोमुहानी में जुस्कोकर्मियों पर पथराव करने के मामले में बस्ती के महिला-पुरुषों के खिलाफ सोनारी थाने में मामला दर्ज किया गया है। शिकायतकर्ता टाटा स्टील लैंड विभाग के तहसीलदार प्रदीप कुमार साहू हैं। बस्तीवासियों पर नाजायज मजमा बनाकर हरवे-हथियार से लैस होकर अनाधिकृत रूप से टाटा कंपनी की जमीन घेरने, गाली-गलौज करने, धमकी देने व वाहनों को क्षतिग्रस्त करने का आरोप है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एसएसपी ऑफिस के सामने हथियारबंद प्रदर्शन