DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सोनाक्षी लकी चार्म हैं

सोनाक्षी लकी चार्म हैं

प्रभु देवा की गिनती सफल निर्देशक के रूप में होती है। उनकी निर्देशित अधिकतर फिल्में सफल हुई हैं,  लेकिन बातचीत में प्रभु कहते हैं कि वह बस लगातार काम करना चाहते हैं,  सफलता के बारे में नहीं सोचते।

- अब आपका मन बॉलीवुड में रम चुका है। हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के निर्माता आप पर काफी भरोसा करने लगे हैं। इतनी बड़ी सफलता को आप किस तरह लेते हैं?
यह सब तो दर्शकों की मेहरबानी है। अगर लोगों को मेरी निर्देशित फिल्में पसंद नहीं आतीं तो मेरी यह पोजिशन नहीं बन पाती। मैं सफलता के बारे में ज्यादा नहीं सोचता। बस लगातार काम करते रहना चाहता हूं। वैसे भी अब साउथ और बॉलीवुड में कोई दूरी नहीं रह गई है। दोनों जगह एक जैसी फिल्में बन रही हैं।

- ‘एक्शन जैक्सन’ में कितना एक्शन है और कितना माइकल जैक्सन जैसा डांस?

फिल्म में एक्शन और डांस का एक संतुलन है। बॉलीवुड की फिल्मों में तलवारबाजी वाला एक्शन आमतौर पर नहीं होता है,  जो इस फिल्म में मौजूद है। अजय ने अपने किरदार के लिए बहुत मेहनत की है। इस बार उन्हें नए तरीके से डांस करते हुए भी देखा जा सकेगा। जहां तक माइकल जैक्सन जैसे डांस की बात है तो उन जैसा कौन कर सकता है। वैसे भी माइकल जैक्सन का इस फिल्म से कोई ताल्लुक नहीं है। इसमें एक रोचक प्रेम कहानी है,  जो एक आदमी और तीन सुंदरियों को केंद्र में रख कर बुनी गई है।

- आप सलमान खान,  अक्षय कुमार,  शाहिद कपूर और अजय देवगन जैसे स्टार्स को अपनी फिल्मों में लेते हैं। नए लोगों के साथ फिल्म बनाने की बात मन में नहीं आती?
मैं प्रोड्यूसर तो हूं नहीं,  जो किसी को ब्रेक दे सकूं। खुद मुझे बतौर निर्देशक साइन किया जाता है,  जिनमें सुपर स्टार लीड रोल में होते हैं। हां,  कई बार ‘रमैया वस्तावैया’  जैसी फिल्म भी निर्देशित कर लेता हूं,  जिसमें न्यू कमर होते हैं, लेकिन ऐसी फिल्मों के जरिए अक्सर प्रोड्यूसर के बेटे को लॉन्च किया जाता है। कभी मौका मिला तो नयों के साथ जरूर फिल्म बनाऊंगा।

- आपके हीरो तो बदलते हैं,  लेकिन सोनाक्षी सिन्हा लगभग हर फिल्म में होती हैं। सोनाक्षी की कौन-सी काबिलियत आपको आकर्षित करती है?
मैंने सोनाक्षी के साथ जितनी भी फिल्में की हैं,  वे हिट हैं। मैंने उनसे फिल्म ‘ओह माई गॉड’  में आइटम भी करवाया था,  वह भी हिट रहा है। कह सकते हैं कि वे मेरी लकी चार्म हैं। सोनाक्षी की सबसे बड़ी खासियत यह है कि वह बहुत मेहनती एक्ट्रेस हैं। 

- आपसे एक डांस फिल्म की उम्मीद की जाती है। क्या ऐसी फिल्म के निर्देशन की बात आपके मन में है?
मेरे मन में तो जरूर है कि एक अच्छी डांस फिल्म बनाऊं। एक ऐसी फिल्म,  जिसके केंद्र में सिर्फ डांस हो,  लेकिन इस तरह की फिल्में बनाना बहुत कठिन होता है।

- आप मल्टीटेलेंटेड कलाकार हैं। जितने अच्छे डांसर हैं,  उतने ही अच्छे कोरियोग्राफर। जितने उम्दा एक्टर हैं,  उतने ही उम्दा डायरेक्टर?  आप खुद को क्या मानते हैं?
सबसे पहले तो मैं डांसर ही हूं। अगर डांसर नहीं होता तो न मुझे कोरियोग्राफी करने का मौका मिलता,  न ही एक्टिंग। डायरेक्शन के बारे में कभी ज्यादा सोचा नहीं था,  लेकिन आश्चर्य कि अब इसी में ज्यादा व्यस्त हो गया हूं।

- जब कोई फिल्म रिलीज होती है तो कितना प्रेशर महसूस करते हैं?
फिल्म रिलीज के पहले दिन तक मेरी हालत किसी न्यूकमर जैसी ही होती है। मुझे इंडस्ट्री में 28 साल हो चुके हैं, लेकिन असफल होने का डर अभी तक गया नहीं है। मैं फिल्म रिलीज होने से एक रात पहले तक न तो ढंग से खा पाता हूं और न ही सो पाता हूं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सोनाक्षी लकी चार्म हैं