DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाकिस्तान में खून चढ़ाने से बच्चे हुए एचआईवी संक्रमित

पाकिस्तान में खून चढ़ाने से बच्चे हुए एचआईवी संक्रमित

पाकिस्तान में एक बड़ी भूल के कारण थैलेसीमिया से ग्रसित 10  बच्चे संक्रमित खून चढ़ाने से एचआईवी से संक्रमित हो गये हैं। देश भर के 22  हजार थैलेसीमिया प्रभावित बच्चों को रक्‍तदान करने वाले विभिन्न धर्मार्थ संगठनों के संघ पाकिस्तान थैलेसीमिया परिसंघ की महासचिव प्रोफेसर यास्मीन राशिद ने गुरुवार को बताया कि इन बच्चों को थैलेसीमिया के लिए नियमित रूप से खून चढ़ाया जाता है।

परिसंघ से इतने अधिक बच्चों को रक्‍तदान किया जाता है इस वजह से ऐसा माना जा रहा है कि इन बच्चों के अलावा और भी कई बच्चे एचआईवी से संक्रमित हो सकते हैं। राशिद ने बताया कि उन्हें गत सप्ताह दस बच्चों के एचआईवी से संक्रमित होने का पता चला है। उन्हें यह नहीं पता कि अब तक कितने बच्चों का एचआईवी टेस्ट किया गया है।

पाकिस्तान मेडिकल साइंस के कुलपति जावेद अकरम ने बताया कि रक्‍तदान करने वाले ऐसे कई पेशेवर हैं जो मादक पदार्थों का सेवन करते हैं। कानूनन रक्‍तदान करने वाले लोगों के खून की जांच की जानी चाहिए लेकिन इस कानून का कड़ाई से पालन नहीं होता है। उन्होंने कहा कि 10 बच्चों के संक्रमित होने का मामला किसी बड़ी हेर-फेर को दर्शाता है।

उन्होंने बताया कि थैलेसीमिया से प्रभावित बच्चों को कई बार सप्ताह में दो बार खून चढाने की जरूरत पड़ती है जिससे उनमें संक्रमण का खतरा कई गुणा बढ़ जाता है। उन्होंने कहा कि उनकी जानकारी में संक्रमित खून चढ़ाने की वजह से अब तक 16  बच्चे एचआईवी से संक्रमित हुए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने अभी इस पर कोई टिप्पणी नहीं की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाकिस्तान में खून चढ़ाने से बच्चे हुए एचआईवी संक्रमित