DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब थ्री डी तकनीक से भेजे जा रहे शादी के निमंत्रण

फिल्मों और गेम्स के बाद अब थ्री डी तकनीक ने शादी के कार्ड्स पर अपना कब्जा जमाया है। शादियों को खास बनाने में लोग कोई मौका नहीं छोड़ना चाहते, फिर बात चाहे सजावट की हो, केटरिंग की या फिर निमंत्रण पत्र की। यही वजह है कि सिल्वर एंड गोल्डन रंगों के पारंपरिक कार्ड्स छोड़कर अब लोगों की मांग स्पेशल वेडिंग कार्ड की रहती है। इस बार थ्री डी कार्ड्स लोगों की पसंद बने हैं। थ्री कार्ड्स के लिए लोगों में खूब क्रेज देखने को मिल रहा है। कार्ड डिजायनर्स की मानें तो शादी में हर छोटी-बड़ी चीज पर लोग भारी-भरकम राशि खर्चने लगे हैं। यही वजह है कि लोगों का रुझान स्टाइलिश निमंत्रण पत्रों की ओर बढ़ा है।

शादी अब मात्र एक समारोह ना रहकर महत्वपूर्ण दिन बन चुका है। लोग शादी को यादगार बनाने में कोई मौका नहीं छोड़ना चाहते। पहले जहां शादी के कार्ड्स को समारोह की जानकारी देने का जरिया माना जाता था, वहीं आज शादी के कार्ड् स्टेटस सिंबल बन चुके हैं। यही वजह है कि फस्र्ट इंप्रेशन के लिए लोग वेडिंग कार्ड्स पर भी जमकर पैसा लूटाते हैं। वहीं इसी ट्रेंड को भुनाते हुए कार्ड डिजायनर्स भी लेटेस्ट डिजाइन बाजार में उतारने में लगे हैं। परंपरागत कार्ड के बजाय अब लोगों को डिजायनर्स कार्ड खूब लुभाते हैं। आलम ये है कि लोग कार्ड बनवाने के लिए बकायदा डिजायनर्स की सलाह भी लेने लगे हैं।

ये है थ्री डी टेक्नोलॉजी
थ्री डी वेडिंग कार्ड्स में नया ट्रेंड है। इन कार्ड्स में कार्ड के ऊपरी हिस्से पर बने हुए डिजाइन की फोटो उभरी हुई होती है। वहीं हर एंगल से देखने पर कार्ड का डिजाइन, रंग और गणेश भगवान की फोटो अलग नजर आती है। कार्ड कारोबारी शेखर कुमार बताते हैं कि कार्ड्स की कीमत 250 रुपए से 800 रुपए तक है।  लोग अपनी पसंद और बजट के हिसाब से कार्ड चुनते हैं।

मल्टी फोल्डिंग और राजसी कार्ड भी है खास
मल्टी फोल्डिंग और राजसी कार्ड भी लोगों की पसंद हैं। मल्टी फोल्डिंग कार्ड में दुल्हा-दुल्हन की विस्तृत जानकारी के साथ ही थ्री डी पिक्चर्स भी शामिल होती हैं। वहीं राजाओं के संदेशों की तरह सिल्क, जूट व रेशम के कपड़ों से बने बने राजसी कार्ड का भी खूब चलन है। इनकी कीमत 100 से 500 तक है।

अलग मेहमानों के लिए कार्ड्स भी अलग
कार्ड डिजायर तरूण बताते हैं कि कार्ड पर लोग अपनी पसंद और बजट के हिसाब से खर्च करते हैं। शादियों में पर्सनल और प्रोफेशनल मेहमानों के लिए अलग-अलग कार्ड प्रिंट कराने का भी खूब चलन है। बजट के हिसाब से स्टेटस सिंबल मेंटेन करने के लिए लोग ऐसा करते हैं।

ये भी है खास वैरायटी
वेडिंग कार्ड डिजायनर प्लानर श्रेया पाठक बताती हैं कि गोल्डन व सिल्वर रंगों के लक्ष्मी-गणेश जी की फोटो लगे पारंपरिक कार्ड्स की जगह अब स्टाइलिश, डिजायनर और कलरफुल कार्ड्स ने ले ली है। कार्ड में कवर पर ग्लास वर्क, थ्री डी टेक्नोलोजी, स्टोन वर्क लोगों की पहली पसंद में शामिल हैं। वहीं कार्ड के रंगों की भी काफी  वैरायटी बाजार में मौजूद है।
हैंडमेड कार्ड- हाथों से बने हुए ये डिजायनर कार्ड भी लोगों की पहली पसंद बने हुए हैं। खास पेपर और कलरफुल आइटम्स से तैयार ये कार्ड ईको फ्रेंडली कार्ड भी होते हैं।
गिफ्ट बॉक्स कार्ड- नई पीढ़ी को ये कार्ड खूब लुभाते हैं। इसकी खासियत ये है कि इमें निमंत्रण पत्र के साथ ही मुंह मीठा कराने के लिए मिठाई भी भेजी जाती है।

लेजर कट कार्ड- खूबसूरती और परफेक्शन के हिसाब से ये कार्ड बेस्ट होता है। इसमें कटआउट डिजाइन और चिन्ह बनाकर कार्ड की खूबसूरती बढ़ाई जाती है। वहीं खूबसूरत रंगों से सजे ये कार्ड अलग ही प्रभाव छोड़ते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब थ्री डी तकनीक से भेजे जा रहे शादी के निमंत्रण