DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मऊ घटना से सबक, बनेंगे 11 हजार मानवित क्रासिंग

मऊ घटना से सबक, बनेंगे 11 हजार मानवित क्रासिंग

महासों रेलवे क्रासिंग पर गुरुवार की सुबह ट्रेन से स्कूली वैन में सवार चार बच्चों की मौत और नौ घायल की सूचना पर रेलमंत्री सुरेश प्रभु और रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा हेलीकाप्टर से आये। उन्होंने शहर के निजी हास्पिटल में भर्ती बच्चों से मिलकर उनके परिजनों को ढाढस बंधाया। अफसरों से स्थिति की जानकारी ली। देश में मानव रहित क्रासिंग पर हो रही घटनाओं को रोकने के लिये 11 हजार क्रासिंग को मानवित किये जाने का भरोसा दिलाया।

मंत्री अस्पताल में बच्चों से मिलकर काफी भावुक हो गये। उन्होंने परिजनों को भरोसा दिलाया कि बच्चों के उपचार में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जायेगी। घटनाओं को रोकने के लिये रेलवे पूरा प्रयास कर रही है। खासतौर पर मानव रहित क्रासिंग पर विशेष ध्यान है। उन्होंने कहा कि पूरे देश में ऐसी क्रासिंग को एक- एक करके मानवित किया जायेगा। जो कई गांव के लोगों के आवागमन का रास्ता हो। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि अपने रेंज में आने वाले क्रॉसिंग की सूची जल्द उपलब्ध करा दें। मंत्री ने कहा कि बच्चों के परिजनों के साथ सरकार की पूरी संवेदना है। उनके इलाज में कोई कोर कसर नहीं छोड़ा जायेगा। बच्चों से मिलते समय रेल मंत्री के आंख में आंसू छलक आए।

इनसेट
घायलों को एअर एम्बुलेंस से ले जाया जायेगा
रेल मंत्री ने बच्चों की स्थिति को देखते हुये कहा कि घायलों को उपचार के लिये बड़े शहरों के अच्छे अस्ततालों में भर्ती कराया जायेगा। इसके लिये एअर एम्बुलेंस की व्यवस्था की जायेगी। ताकि अन्य गंभीर बच्चों की जान बचाई जा सके।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मऊ घटना से सबक, बनेंगे 11 हजार मानवित क्रासिंग