DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सपा सुप्रीमो ने काह, बहू तो यहीं की हैं, प्रभार क्या देना

सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने डिंपल यादव को उत्तराखंड का प्रभारी बनाने से यह कहकर इनकार कर दिया कि वे तो यहीं की हैं, उन्हें प्रभार क्या देना। मुलायम सिंह यादव एक शादी समारोह में शामिल होने देहरादून आए हैं।

यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि उन्होंने खुद कहा कि कभी नहीं चाहा कि उत्तर प्रदेश का बंटवारा हो और उत्तराखंड बने। उन्होंने उल्टा मीडिया कर्मियों की ओर सवाल उछाला कि क्या राज्य बनने से कुछ भला हुआ। आज उत्तराखंड पूरी तरह दिल्ली पर निर्भर है। जबकि यूपी के साथ रहते हुए अधिक बेहतर स्थिति थी।

 राज्य गठन से उत्तराखंड की जनता को कुछ नहीं मिला। उनका हमेशा उत्तराखंड, बुंदेलखंड, पूर्वाचल को विशेष पैकेज देकर विकास सुनिश्चित किए पर जोर रहा। आज राज्य अलग न होता, तो उत्तराखंड अधिक बेहतर स्थिति में होता। राज्य में सपा की दयनीय हालत व उसमें सुधार को कुछ ठोस प्रयास किए जाने के सवाल पर उनका जवाब गोलमोल रहा। कहा कि राज्य के नेता मेहनत करेंगे, तो नतीजे बेहतर मिलेंगे। बहू डिंपल को राज्य का प्रभार देने पर कहा कि वे तो हैं यही की, इसमें प्रभार क्या देना। राज्य के साथ परिसंपत्ति बंटवारे को लेकर भी उन्होंने इसे दोनों प्रदेशों के मुख्यमंत्री का मसला बताया।

भाजपा को किया कठघरे में खड़ा
सांप्रदायिक बयानों को लेकर चर्चा में आए भाजपा सांसदों के बयानों को उन्होंने पार्टी का असल चेहरा बताया। कहा कि भाजपा ने हमेशा समाज को बांटने, साप्रंदायिक द्वेष फैलाने का काम किया। रामजन्म भूमि को हिंदुओं को सौंपे जाने को लेकर बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी पदाधिकारी के बयान पर मुलायम ने कहा कि इस मामले में न उन्हें कुछ कहना है और न ही इस मामले में कुछ होना है।

मोदी के खिलाफ मजबूत होगा थर्ड फ्रंट
जनता दल के सभी पुराने क्षत्रपों के एक मंच पर आने व थर्ड फ्रंट को मजबूत किए जाने के सवाल पर कहा कि कोशिशें जारी हैं। फिरकापरस्त ताकतों की समाज विरोधी नीतियों से देश को बचाने के लिए कोशिशें जारी रहेंगी।

बड़थ्वाल को नसीहत
पार्टी में उत्तराखंड के पूर्व अध्यक्ष विनोद बड़थ्वाल को हाशिये पर डाले जाने व उन्हें कभी भी राज्यसभा के लिए न भेजे जाने पर मुलायम ने नसीहत दी। कहा कि निष्क्रिय रहने से कुछ नहीं होगा। जो सक्रिय रह कर काम करेगा, उसी को मौका भी दिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सपा सुप्रीमो ने काह, बहू तो यहीं की हैं, प्रभार क्या देना