DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बुद्धम् शरणम् गच्छामि से गूंजा महाबोधी मंदिर

महाबोधि मंदिर बुधवार को 12 देशों के बौद्ध भिक्षुओं के बुद्धम् शरणम् गच्छामि..के उद्घोष से गूंज उठा। बारह देशों के बौद्ध भिक्षुओं ने सम्पूर्ण विश्व के प्राणियों की मंगलकामना के लिए त्रिपिटक के अंगुत्तर निकाय का पाठ शुरू किया। इन देशों के बौद्ध भिक्षु अपनी-अपनी भाषा में त्रिपिटक पाठ कर रहे हैं। सबों को उनकी भाषा में त्रिपिटक उपलब्ध कराये गए हैं। त्रिपिटक सूत्रपाठ चार पालियों में संचालित है जो 12 दिसम्बर तक चलेगा।

महाबोधि मंदिर की आकर्षक सजावट के बीच 12 देशों के तंबू बनाये गए हैं। जिनमें बौद्घ भिक्षु त्रिपिटक का स-स्वर पाठ कर रहे हैं। महाबोधि मंदिर में त्रिपिटक मंत्रोच्चार समारोह में भिक्षुओं व श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ है। महाबोधि मंदिर में आने जाने के लिए श्रद्धालुओं की लंबी कतार लग रही है। आयोजक डा़ वांग्मो डिक्सी ने बताया कि त्रिपिटक सूत्रपाठ में भाग लेने के लिए विश्व के कई देशों से लगभग चार हजार श्रद्धालु बोधगया पहुंचे हैं। भारत के कई राज्यों तथा भिक्षुसंघ एवं बोधगया के बौद्धमठों के बौद्ध भिक्षु भी इस पाठ में भाग ले रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बुद्धम् शरणम् गच्छामि से गूंजा महाबोधी मंदिर