DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अनिल सिन्हा के सीबीआई चीफ बनने पर झूमा बक्सर

ईमानदारी, सादगी और काम के प्रति समर्पण ही व्यक्ति को सफलता के शिखर पर ले जाता है। इसी के बूते बक्सर के डुमरांव में पैदा हुए अनिल कुमार सिन्हा ने सीबीआई डायरेक्टर के ओहदे तक का सफर तय किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली समिति ने उन्हें देश की सर्वोच्च जांच एजेंसी की कमान सौंपने के प्रस्ताव पर मुहर लगा दी। यह खबर मिलते ही मंगलवार की रात से ही बक्सर में जश्न का माहौल छा गया।

जिला मुख्यालय से करीब बीस किलोमीटर दूर स्थित डुमरांव शहर के लाला टोली मोहल्ले में रहने वाले एक कुलीन और सुशिक्षित कायस्थ परिवार में श्री सिन्हा का जन्म हुआ। सीबीआई के नए चीफ से छह माह बड़े उनके चचेरे भाई और पेशे से वकील शैलेंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि अनिल के पिताजी राणा प्रताप सिन्हा जैन कॉलेज, आरा में मनोविज्ञान के प्रोफेसर थे।

बाद में यूनिवर्सिटी प्रोफेसर के पद से रिटायर हुए। श्री सिन्हा की मां का नाम मिन्नी राणा था। वे अब इस दुनिया में नहीं हैं। उनकी दादी कमला देवी अंग्रेजी हुकूमत के दौरान मजिस्ट्रेट हुआ करती थीं और दादा देवेंद्र प्रताप सिन्हा जमींदार थे। सात बहनों और तीन भाइयों के बीच अनिल कुमार सिन्हा सबसे बड़े हैं। उनके दो भाई अंबर राणा और आलोक राणा एमबीए करके दिल्ली में ही नौकरी कर रहे हैं।

शैलेंद्र ने बताया कि अनिल की प्रारंभिक शिक्षा-दीक्षा पिता के साथ आरा में हुई। फिर उच्च शिक्षा के लिए उन्होंने पटना कॉलेज में दाखिला लिया। वर्ष 1979 में वे आईपीएस बने। पहली पोस्टिंग रांची में हुई। तब बिहार से झारखंड अलग नहीं हुआ था। करीब एक साल बाद बक्सर शहर के संभ्रांत कायस्थ परिवार में उनकी शादी हुई। फिलहाल उनकी पत्नी कृति सिन्हा सुप्रीम कोर्ट में एडवोकेट हैं। सिन्हा दंपति को एक बेटा और एक बेटी है। बेटे का नाम अनिकेत है, जबकि बेटी का अनुकृति।

बिहार कैडर के आईपीएस अनिल कुमार सिन्हा राज्य में कई अहम पदों पर काम कर चुके हैं। उनकी पहचान एक ईमानदार और कर्तव्यनिष्ठ पुलिस अफसर के रूप में रही है। उत्कृष्ट सेवा के लिए श्री सिन्हा को राष्ट्रपति पुरस्कार भी मिल चुका है। उधर, बुधवार को डुमरांव के लोग खुशी से फूले नहीं समा रहे थे। उन्हें इस बात का गर्व था कि उनके बीच पैदा हुआ शख्स सीबीआई का डायरेक्टर बना है। बधाई देने वालों का तांता लगा रहा।

चालीस आईपीएस के बीच हुआ चयन
सीबीआई के नए डायरेक्टर के चयन के लिए चालीस आईपीएस के नामों की सूची भेजी गई थी। इनमें से बिहार कैडर के आईपीएस अनिल कुमार सिन्हा के नाम पर सहमति बनी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अनिल सिन्हा के सीबीआई चीफ बनने पर झूमा बक्सर