DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आज बंद रहेंगे राज्य के सरकारी बैंक

यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस के आह्वान पर राज्य के सभी सरकारी बैंक चार दिसंबर को बंद रहेंगे। हड़ताल से करीब दो सौ करोड़ का कारोबार प्रभावित होने की आशंका है। यूनियन के पदधारियों के अनुसार इंडियन बैंक एसोसिएशन वेतन समझौते पर टालमटोल का रवैया अपना रहा है। वेतन समझौता एक नवंबर 2012 से लंबित है।

मांग पत्र अक्तूबर 2010 में ही दिया गया था। अब तक कई दौर की बातचीत हुई है। एसोसिएशन पे स्लिप पर 11 प्रतिशत से अधिक वेतन देने को तैयार नहीं है। बढ़ती महंगाई के मद्देनजर यूनियन सम्मानजनक समझौता चाहती है। इन्हीं मांगों को लेकर 12 नवंबर को देशव्यापी हड़ताल की गई थी।

उस वक्त यूनियन ने कहा था कि समझौता नहीं होने पर दो से पांच दिसंबर तक अंचलवार बैंकों में हड़ताल की जाएगी। पिछली हड़ताल में राज्य के निजी बैंक भी शामिल हो गए थे। कहीं कोई कामकाज नहीं हुआ था।

ये है मांगें
वेतन समझौता जल्द करना, बड़े एनपीए खातों की जांच करना, सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के निजीकरण और विलयन पर रोक लगाना, रिजर्ब बैंक, नाबार्ड और को-ऑपरेटिव बैंक को बंद होने से बचाना, निजी बैंकों का राष्ट्रीयकरण करना, ठेका कर्मियों को न्यूतम वेतन और सामाजिक सुरक्षा देना आदि।

हड़ताल में ये सहारा
हड़ताल होने पर एटीएम, इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, क्रेडिट-डेविट कार्ड से खरीदारी करना सहारा बनेगा।

एक नजर में स्थिति
कुल बैँक : 2,685
कुल एटीएम : 2,345
कर्मी : करीब 25 हजार

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आज बंद रहेंगे राज्य के सरकारी बैंक