DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शायद ह्यूज़ मुझे इस समय 'रोंदू' बुला रहे होंगे

शायद ह्यूज़ मुझे इस समय 'रोंदू' बुला रहे होंगे

इस समय यदि ह्यूज़ मुझे देख रहे होंगे तो निश्चित ही वह मुझे रोंदू 'क्राई बेबी' बुला रहे होंगे। हर समय मुझे यह अहसास हो रहा है कि वह किसी कोने से मेरे पास आ जाएंगे। अपने दोस्त फिलिप ह्यूज़ के अंतिम संस्कार के दौरान कुछ इस तरह से ऑस्ट्रेलियाई कप्तान माइकल क्लार्क ने व्यक्त की अपनी भावनाएं।
      
खास दोस्त और साथी खिलाड़ी की जिंदगी की दो दिन तक चली जंग से लेकर उनके दो गज जमीन में समा जाने तक कलार्क ने ह्यूज़ का साथ नहीं छोड़ा। कई मौकों पर फूटफूट कर रो पड़े क्लार्क जब मैक्सविल स्कूल हाल में ह्यूज़ के अंतिम संस्कार के मौके पर मौजूद हजारों की भीड़ को संबोधित कर रहे थे तब भी उनकी भावनाओं का बांध टूट पड़ा।
     
बेहद भावुक क्लार्क ने 25 वर्षीय बल्लेबाज की अंत्येष्टि में ह्यूज़ के लिये अपनी भावनाओं को व्यक्त करते हुये कहा कि ओह! शायद इस समय ह्यूज़ देख रहे होंगे तो वह मुझे रोंदू बुला रहे होंगे जो लगातार रो रहा है। मैं जानता हूं कि यह अजीब है लेकिन हर पल मुझे एहसास हो रहा है कि वह किसी कोने से बाहर निकलकर आयेंगे और मुझे आवाज देंगे।
      
क्लार्क ने कहा कि शायद इसी को आत्मा कहते है। यदि ऐसा होता है तो ह्यूज़ की आत्मा हमेशा मेरे साथ रहेगी और मैं उम्मीद करता हूं कि वह कभी मेरा साथ नहीं छोड़ेगी। ह्यूज़ का 27 नवंबर को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में मैच के दौरान सिर पर गेंद लगने से निधन हो गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शायद ह्यूज़ मुझे इस समय 'रोंदू' बुला रहे होंगे