DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

धनकुबरों की सूची में छाये भारतीय

भारत के सबसे बड़े उद्योग समूहों में शुमार टाटा दुनिया के शीर्ष ब्रांडों में शामिल हो गया है। साथ ही स्टील किंग लक्ष्मी मित्तल यूरोप के सबसे बड़े धनपति बन गये। टाटा को बांग्लादेश में भी निवेश की सफलता मिलती दिख रही है। ‘संडे टाइम्स’ द्वारा जारी ग्लोबल धनकुबेरों की सूची में भी भारतीय छाये हुए हैं।ड्ढr अमेरिकी पत्रिका फोर्ब्स द्वारा जारी विश्व के धनपतियों की सूची में लक्ष्मी मित्तल, मुकेश, अनिल अंबानी और केपी सिंह समेत कई भारतीयों का नाम प्रमुखता से दर्ज है। फोर्ब्स के अनुसार ये दुनिया के दस सबसे बड़े अमीरों में हैं। फोर्ब्स का अनुमान है कि 2017 तक सबसे ज्यादा अरबपति भारतीय होंगे। इंग्लैंड की कंसल्टेंसी फर्म के अनुसार, ब्रांड फिनांश द्वारा जारी सौ टॉप ब्रांडों की सूची में टाटा 57वें स्थान पर हैं और उनकी कीमत 11.4 अरब डॉलर आंकी गयी। ब्रांड फिनांश एक स्वतंत्र कंपनी है जो ब्रांडों का प्रबंधन व मूल्यांकन करती है।सूची में सबसे ऊपर कोका कोला का नाम है, जबकि माइक्रोसफ्ट, गूगल, वाल-मार्ट, आईबीएम, जीई आदि अमेरिकी कंपनियां क्रमश: उसके बाद हैं। सातवें स्थान पर इंग्लैंड की एचएसबीसी है।ड्ढr टाटा को मिले नये मुकाम पर खुशी जाहिर करते हुए इसके कार्यकारी निदेशक आर गोपालकृष्णन ने कहा कि यह पहला मौका है जब किसी भारतीय ब्रांड को सबसे बड़े ग्लोबल ब्रांडों में शामिल किया गया है। बांग्लादेश सरकार ने देश में निवेश के लिए टाटा से बातचीत करने का फै सला किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: धनकुबरों की सूची में छाये भारतीय