DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मरीज की मौत के बाद बांकेबाजार अस्पताल में तोड़फोड़

बांकेबाजार थाना क्षेत्र के तिलैया गांव के सोनू कुमार (15) की मौत के बाद सोमवार को परिजनों ने बांके बाजार पीएचसी में जमकर तोड़फोड़ की। स्थानीय लोगों ने बताया कि उमेश पासवान के बेटे सोनू गांव में आयी बारात में शामिल होकर घर लौट रहा था। इसी दौरान वह कुएं में गिर गया। ग्रामीणों के सहयोग से उसे कुएं से निकालकर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बांकेबाजार में भर्ती कराया गया।

परिजनों ने आरोप लगाया कि जिस समय वे सोनू को लेकर पीएचसी पहुंचे, वहां कोई डॉक्टर मौजूद नहीं था। वहां मौजूद स्वास्थ्यकर्मियों ने सोनू को बाहर ले जाने की सलाह दी। इसी बीच परिजन और एम्बुलेंस चालक के बीच कहासुनी हो गई। इस कहासुनी के दौरान बच्चे ने दम तोड़ दिया। इसके बाद आक्रोशित परिजनों ने अस्पताल में तोड़फोड़ शुरू कर दी। टेबल-कुर्सी एवं एम्बुलेंस को लोगों ने क्षतिग्रस्त कर दिया। पीड़ित परिवार का कहना था कि अगर समय पर पीएचसी में इलाज हो जाता, तब सोनू की जान बच सकती थी।

हंगामे की खबर मिलने पर बांकेबाजार थानाध्यक्ष रविभूषण कुमार पीएचसी पहुंचे और लोगों को शांत करवाया। श्री कुमार ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए मगध मेडिकल कॉलेज भेज दिया गया है। इस संबंध में डॉक्टरों से बात करने की कोशिश की गई, लेकिन संपर्क नहीं हो सका।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मरीज की मौत के बाद बांकेबाजार अस्पताल में तोड़फोड़