DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जिले में बनेगा पांच सौ बेड का हास्पिटल: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने स्व.रामकरन दादा की दूसरी पुण्यतिथि पर सोमवार को ईशोपुर गांव में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में जिले के विकास पर गंभीर दिखे। उन्होंने घोषणा की कि जिला मुख्यालय पर 500 बेड का सरकारी अस्पताल बनाया जाएगा। इसे बाद में मेडिकल कॉलेज के रूप में परिवर्तित कर दिया जाएगा। कहा, अब गाजीपुर की उपेक्षा नहीं होने दी जाएगी। जिले के विकास के लिए अलग से बजट में भी धन का प्रावधान किया जाएगा।

पूर्वांचल के गांधी के नाम विख्यात और मुलायम परिवार के सदस्य के रूप में पहचान बनाने वाले रामकरन दादा की प्रतिमा का अनावरण करने के बाद मुख्यमंत्री ने सवा बारह बजे माइक संभाला। बोले, दादा हमेशा पूर्वांचल की बदहाली पर नेताजी से चर्चा करते थे। दादा की चिंता थी कि गाजीपुर के साथ ही पूर्वांचल की बदहाली दूर हो। आज हम लोगों के बीच में दादा नहीं है लेकिन उनकी यादें जीवित हैं। उनके बताए हुए रास्ते पर चलकर समाजवादियों का संघर्ष गांव गरीब के लिए जारी रहेगा। उन्होंने पंचायती राज मंत्री कैलाश यादव का नाम लेकर कहा कि इन्होंने कई बार मुझसे जिले की जर्जर सड़कों का जिक्र किया। कहा कि गाजीपुर के साथ-साथ पूर्वांचल की जर्जर सड़कों की दशा सुधरेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिले में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए सबसे पहले 500 बेड का अस्पताल बनाया जाएगा। बाद में इसी अस्पताल को मेडिकल कालेज का रूप दे दिया जाएगा। बिजली की खराब हालत पर कहा कि वर्ष 2016 तक गांवों को 14 से 16 घंटे और शहर को 20 से 22 घंटे तक बिजली दी जाएगी। वर्ष 2016 तक प्रदेश के हर जिले में बिजली के तार और खंभों की हालत ठीक हो जाएगी। अलग से हर जिलों में बिजली सब स्टेशनों का निर्माण कराया जा रहा है। लोकल फाल्ट की समस्या भी दूर कर ली जाएगी। उन्होंने आरोप लगाया कि छह माह पहले जनता को झूठा वादा करके केंद्र की सत्ता हासिल करने वाले यूपी की उपेक्षा कर रहे हैं। प्रदेश सरकार को कोयला नहीं दिया जा रहा है। अतिरिक्त बिजली भी नहीं मिल रही है। इसके लिए जल्द ही वह केंद्रीय बिजली मंत्री से मिलकर बिजली आपूर्ति बेहतर करने के लिए कोयले की मांग करेंगे। उन्होंने कहा कि पहली बार प्रदेश सरकार गांव की गरीब महिलाओं को समाजवादी पेंशन देने जा रही है। एक महिला को हरमाह पांच सौ रुपये मिलेंगे। इसके लिए पूरे प्रदेश में 40 लाख पेंशनरों का चयन किया जाएगा। कुछ जिलों में योजना की शुरुआत भी कर दी गई है। इसके लिए बजट में दो हजार करोड़ का इंतजाम किया गया है। उन्होंने कहा कि समाजवादी पेंशन योजना विश्व की सबसे बड़ी योजना है।

उन्होंने मोदी के गुजरात माडल पर तंज कसते हुए कहा कि वहां पर किसानों को 12 घंटे भी बिजली नहीं मिल पा रही है। सबके यहां मीटर लगे हुए हैं। यहां पर गांवों में बिना मीटर के बिजली आपूर्ति की जा रही है। उन्होंने फिर सुधारते हुए कहा कि बिजली की दशा को बेहतर बनाने के लिए प्रदेश सरकार ने कदम आगे बढ़ाया है। उन्होंने यह भी कहा कि बिजली की बेहतरी के लिए सोलर सिस्टम पर भी काम किया जा रहा है। हर जिले के गांवों में हैंडपंप की तरह सोलर लाइट लगाई जाएगी। इस दौरान कैबिनेट मंत्री राजेंद्र चौधरी, प्रदेश के पंचायती राज मंत्री कैलाश यादव, पर्यटन मंत्री ओमप्रकाश सिंह, बलराम यादव,अंबिका चौधरी, परिहवहन मंत्री दुर्गा यादव, मंत्री पारसनाथ यादव, रामकरन दादा के तीनों पुत्र विजय यादव, अजय यादव जय सिंह, सैदपुर विधायक सुभाष पासी, पूर्व सांसद राधेमोहन सिंह, जगदीश कुशवाहा, सपा जिलाध्यक्ष राजेश कुशवाहा, मंत्री प्रतिनिधि वीरेंद्र यादव सहित कई जिलों के सांसद और विधायक भी मौजूद रहे।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जिले में बनेगा पांच सौ बेड का हास्पिटल: मुख्यमंत्री