DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इसी महीने के आखिरी हफ्ते में चौथी काउंसलिंग

प्रदेश में चल रही 72,825 प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती में बचे हुए खाली पदों पर इसी माह के आखिरी हफ्ते में चौथी काउंसिलिंग कराने की तैयारी है। इससे पहले राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद सभी जिलों का ब्यौरा दुरुस्त करने के लिए एनआईसी को डाटा सौंपेगा। इस भर्ती में अभी लगभग 24 फीसदी पद खाली हैं।

इस भर्ती की तीन काउंसलिंगों में 76 फीसदी पद भर चुके हैं। सामान्य व ओबीसी वर्ग में न के बराबर ही सीटें बची हैं। जबकि विशेष आरक्षण वर्ग में सीटें खाली रह गई हैं। वहीं एससी, एसटी की विज्ञान में भी सीटें रिक्त हैं। अब इन बची हुई सीटों पर दिसम्बर के आखिरी हफ्ते में काउंसलिंग करवाई जा सकती है। इससे पहले भर्ती का ऑनलाइन ब्यौरा दुरुस्त किया जाएगा। 

कई जिलों ने ब्यौरा राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद में भेज दिया है लेकिन अब भी आधे से ज्यादा जिलों का ब्यौरा मुख्यालय नहीं पहुंचा है। ज्यादातर उन्हीं जिलों का डॉटा आने में देरी हो रही है जहां ज्यादा रिक्तियां थीं। दरअसल, काउंसलिंग के समय इतनी भीड़ थी कि जरूरी कागजात अभ्यर्थियों से जमा करा लिए गए थे लेकिन उनका मिलान उस समय नहीं किया गया। अब उनका मिलान कर सूची बनाई जा रही है। वहीं प्रोविजनल काउंसलिंग वालों का ब्यौरा भी मंगवाया गया है।

दूसरी ओर, राज्य स्तरीय समिति ने अब भी उन शंकाओं का निराकरण नहीं किया है जो भर्ती के दौरान उठी थीं। लगभग डेढ़ दर्जन बिन्दुओं पर समिति को अपना मत देना है। इन शंकाओं के हल के आधार पर प्रोविजनल काउंसलिंग वाले अभ्यर्थियों का भविष्य तय होगा।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इसी महीने के आखिरी हफ्ते में चौथी काउंसलिंग