DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जदयू छात्र नेताओं की पिटाई में प्रशासन की गलतीः मांझी

मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने सोमवार को कहा कि आरा में छात्र समागम से जुड़े छात्रों पर कार्रवाई प्रशासन की गलती है। छात्र समागम से जुड़े छात्र अपराधी नहीं हो सकते। इस मामले में उन्होंने आला अधिकारियों से बात की है। थाना प्रभारी पर कार्रवाई हुई है। प्रशासन के जिन लोगों की गलती है उन पर कार्रवाई होनी चाहिए।

मांझी जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम के बाद संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे। मुख्यमंत्री से जब गांधी मैदान हादसे की जांच रिपोर्ट के आधार पर दोषी अफसरों पर कार्रवाई के संबंध में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि जल्द ही निर्णय लेंगे। रिपोर्ट का अध्ययन करा रहे हैं।

फाइल नहीं आई : नगर विकास मंत्री द्वारा पटना नगर निगम भंग की सिफारिश करने से संबंधित प्रश्न पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उनके पास निगम भंग करने या फिर निगमायुक्त को हटाने से संबंधित कोई फाइल नहीं आई है। अगर फाइल आयी तो विधि विशेषज्ञों की राय के बाद कोई निर्णय लेंगे। अगर सक्षम नहीं हुए तो कोई और उपाय करेंगे।

पांच से आरंभ हो जाएंगे धान खरीद केंद्र : मुख्यमंत्री ने कहा कि पांच दिसंबर से सभी जगहों पर धान क्रय केंद्र खुल जाएंगे। क्रय पर बोनस से संबंधित विवाद पर उन्होंने कहा कि इस बारे में केंद्र सरकार का एक पत्र आया था कि बोनस मत बढ़ाएं। बयालिस लाख टन से अधिक क्रय होने पर बोनस नहीं दिए जाने का प्रावधान है। बिहार का लक्ष्य 30 लाख मीट्रिक टन का है। ऐसे में बिहार के किसानों को हम बोनस दे सकेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जदयू छात्र नेताओं की पिटाई में प्रशासन की गलतीः मांझी